बाइडेन के बयान के बाद भड़का ड्रैगन, कहा- दुनिया में है केवल एक चीन और ताइवान उसका हिस्सा

China
creative common
अभिनय आकाश । Sep 19, 2022 6:27PM
चीन ने कहा कि हम शांतिपूर्ण तरीके से ताइवान को शामिल करने की पूरी कोशिश करेंगे। इसके साथ ही माओ निंग ने साफ किया कि अलगाव के उद्देश्य से किसी भी गतिविधि को चीन बर्दाश्त नहीं करेंगा।

चीन ने ताइवान के मुद्दे को लेकर अमेरिका पर करारा हमला बोला है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता माओ निंग ने एक नियमित मीडिया ब्रीफिंग में कहा कि चीन राष्ट्र को अलग करने वाली गतिविधियों के जवाब में सभी आवश्यक उपाय करने का अधिकार सुरक्षित रखता है। हम शांतिपूर्ण तरीके से ताइवान को शामिल करने की पूरी कोशिश करेंगे। इसके साथ ही माओ निंग ने साफ किया कि अलगाव के उद्देश्य से किसी भी गतिविधि को चीन बर्दाश्त नहीं करेंगा।

इसे भी पढ़ें: ड्रैगन से पंगा लेने के लिए तैयार अमेरिका? बाइडन बोले- चीन के हमला करने की स्थिति में ताइवान की रक्षा करेगा US

चीन ने अमेरिका से ताइवान से संबंधित मुद्दों को "सावधानीपूर्वक और ठीक से" डील करने का आग्रह भी किया।  इसके साथ ही माओ ने ताइवान की स्वतंत्रता के प्रयास के लिए अलगाववादी ताकतों को गलत संकेत नहीं भेजने की बात करते हुए कहा कि अमेरिका को चीन-अमेरिका संबंधों और ताइवान में शांति को गंभीर रूप से नुकसान नहीं पहुंचाने की चेतावनी भी दी। माओ ने कहा कि दुनिया में केवल एक चीन है, ताइवान चीन का हिस्सा है। पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना की सरकार चीन की एकमात्र वैध सरकार है।

इसे भी पढ़ें: मानवाधिकारों की आलोचना के बावजूद चीन संयुक्त राष्ट्र के साथ संबंधों को महत्व देता है

बता दें कि अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा था कि यदि चीन ताइवान पर हमला करने की कोशिश करता है, तो अमेरिकी बल उसकी रक्षा करेंगे। चीन इस स्वशासित द्वीप पर अपना दावा करता है। समाचार चैनल ‘सीबीएस न्यूज’ पर प्रसारित ‘60 मिनट्स’ कार्यक्रम के दौरान एक साक्षात्कार में बाइडन से पूछा गया कि ‘‘यदि चीन ताइवान पर हमला करता है, तो क्या अमेरिकी बल, अमेरिकी पुरुष एवं महिलाएं उसकी रक्षा करेंगे।’’ इसके जवाब में बाइडन ने ‘‘हां’’ कहा।

अन्य न्यूज़