अमेरिका के एक शीर्ष सांसद का बड़ा बयान, कहा- चीन भारत के साथ सीमा युद्ध कर रहा है

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 17, 2021   09:03
अमेरिका के एक शीर्ष सांसद का बड़ा बयान, कहा- चीन भारत के साथ सीमा युद्ध कर रहा है

अमेरिकी सांसद कॉर्निन ने कहा कि, चीन भारत के साथ ‘सीमा युद्ध’ कर रहा है।सांसद जॉन कॉर्निन और उनके सहयोगी चीन द्वारा पेश की जा रही चुनौतियों के संबंध में प्रत्यक्ष जानकारी हासिल करने के लिए भारत और दक्षिण पूर्व एशिया की यात्रा पर गए थे और वे यात्रा पूरी करके हाल में लौटे हैं।

वाशिंगटन। अमेरिका के एक शीर्ष सांसद ने कहा है कि चीन भारत के साथ ‘‘सीमा युद्ध’’ कर रहा है, साथ ही वह अपने पड़ोसियों के लिए भी गंभीर खतरा पेश कर रहा है। रिपब्लिकन पार्टी से सांसद जॉन कॉर्निन ने भारत और दक्षिण पूर्व एशिया की अपनी यात्रा का ब्योरा साझा करते हुए अमेरिकी संसद के समक्ष यह बात कही। इस यात्रा का मकसद उस क्षेत्र के देशों के समक्ष चुनौतियों के बारे में सही मालुमात एकत्र करना था। सांसद जॉन कॉर्निन और उनके सहयोगी चीन द्वारा पेश की जा रही चुनौतियों के संबंध में प्रत्यक्ष जानकारी हासिल करने के लिए भारत और दक्षिण पूर्व एशिया की यात्रा पर गए थे और वे यात्रा पूरी करके हाल में लौटे हैं। कॉर्निन ‘इंडिया कॉकस’ के सह-अध्यक्ष भी हैं। कॉर्निन ने मंगलवार को सांसदों से कहा, ‘‘सबसे अधिक और गंभीर खतरा उन देशों के लिए है, जो चीन की सीमा के निकट हैं।’’

इसे भी पढ़ें: इमैनुएल मैक्रों ने चुपके से अपने देश के झंडे में किया बदलाव, नए रंग को फ्रांसीसी क्रांति के प्रतीक के रूप में बताया गया

उन्होंने कहा, ‘‘क्षेत्र में खतरों और चुनौतियों के बारे में सही से समझने के लिए पिछले सप्ताह मुझे कांग्रेस के एक प्रतिनिधि दल की दक्षिणपूर्व एशिया की यात्रा की अगुवाई करने का मौका मिला। चीन अंतरराष्ट्रीय जलक्षेत्र में नौवहन की स्वतंत्रता को खतरा पैदा कर रहा है, साथ ही अपने लोगों के मानवाधिकारों के घोर उल्लंघन का दोषी है, खासतौर पर अल्पसंख्यक मुस्लिम समुदाय उइगर का। वह भारत के साथ सीमा युद्ध कर रहा है साथ ही वह रिपब्लिक ऑफ चाइना जिसे ताइवान के नाम से जानते हैं, उस पर हमले की धमकी दे रहा है।’’ कॉर्निन ने कहा कि उन्होंने भारत की यात्रा की जहां ‘‘चीन की ओर से पेश खतरों तथा अन्य साझा प्राथमिकताओं पर बातचीत करने के लिए प्रधानमंत्री (नरेन्द्र) मोदी और मंत्रिमंडल के अधिकारियों से मुलाकात की।’’ अमेरिकी सांसद ने कहा कि यात्रा के दौरान चर्चा का एक अहम मुद्दा ताइवान पर चीन के हमले की आशंका से जुड़ा था।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।