फेसबुक के emoji के खिलाफ जारी हुआ फतवा, मौलाना ने कहा- अल्लाह के प्यार के लिए इस तरह की चीजें बंद करें

फेसबुक के emoji के खिलाफ जारी हुआ फतवा, मौलाना ने कहा- अल्लाह के प्यार के लिए इस तरह की चीजें बंद करें

मौलाना ने फेसबुक के हाहा ईमोजी के खिलाफ फतवा जारी किया है। सोशल मीडिया पर फेमस मौलाना अहमदुल्ला ने फेसबुक पर लोगों का मजाक उड़ाने के लिए इस्तेमाल होने वाली इमोजी हाहा के खिलाफ फतवा जारी करते हुए ऐसा करने को गलत बताया है।

बांग्लादेश में एक मशहूर मौलाना हैं नाम है अहमदुल्ला, जिनका फेसबुक पर ऑफिशियल अकाउंट भी है और लाखों फॉलोअर्स भी हैं। अक्सर ही टीवी पर दिखाई देते हैं और ज्यादातर मुस्लिम बहुल्य बांग्लादेश में धार्मिक मामलों पर ही चर्चा करते हैं। लेकिन वो इन दिनों अपने अजीबो-गरीब फतवा को लेकर चर्चा में हैं। धर्म के नाम पर मौलाना द्वारा फतवा जारी किए जाने कि खबर तो आम है। लेकिन सोशल मीडिया पर फेमस इस मौलाना ने इमोजी के खिलाफ ही फतवा जारी कर दिया। दरअसल, मौलाना ने फेसबुक के "हाहा" ईमोजी के खिलाफ फतवा जारी किया है। सोशल मीडिया पर फेमस मौलाना अहमदुल्ला ने फेसबुक पर लोगों का मजाक उड़ाने के लिए इस्तेमाल होने वाली इमोजी "हाहा" के खिलाफ फतवा जारी करते हुए ऐसा करने को गलत बताया है। 

इसे भी पढ़ें: फेसबुक पर फर्जी अकाउंट बनाकर अपनी पूर्व पत्नी को करता था परेशान, हुई 12 साल की जेल

मौलाना ने तीन मिनट का एक वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट किया और इसमें फेसबुक पर हाहा इमोजी  के जरिए लोगों का मजाक उड़ाए जाने को लेकर बात की है। मौलाना के इस वीडियो को 20 लाख से ज्यादा बार देखा जा चुका है। उन्होंने कहा कि आप इस इमोजी का इस्तेमाल सिर्फ मनोरंजन के लिए कर रहे हैं और पोस्ट करने वाले व्यक्ति का इरादा बुरा नहीं है तो ये ठीक है। लेकिन अगर आपका इरादा सोशल मीडिया पर पोस्ट करने वाले व्यक्ति को बदनाम करना या फिर उसे ताना मारना है तो ये इस्लाम में पूरी तरीके से हराम है। मौलाना अहमदुल्ला ने वीडियो को सोशल मीडिया पर डालकर कहा कि अल्लाह के प्यार के लिए मैं आपसे कहता हूं कि इस तरह की चीजें करना बंद करें।