वियतनाम में नागरिक स्वतंत्रता से जुड़े मुद्दों पर अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस ने की बात

Harris
अमेरिका रवाना होने से पहले हैरिस बृहस्पतिवार शाम को एक संवाददाता सम्मेलन भी करेंगी। वियतनाम को अभिव्यक्ति एवं प्रेस की स्वतंत्रता पर प्रतिबंध, देश में महिलाओं के खिलाफ व्यापक हिंसा और राजनीतिक असंतुष्टों के खिलाफ कार्रवाई के लिए काफी आलोचना का सामना करना पड़ा है।

हनोई। अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस ने बृहस्पतिवार को अपनी दक्षिण-पूर्व एशिया यात्रा सम्पन्न करते हुए नागरिक स्वतंत्रता के मुद्दों की बात की। वियतमान में हैरिस ने एलजीबीटीक्यू अधिकारों और जलवायु परिवर्तन से जुड़े मुद्दों पर काम रहे कार्यकर्ताओं के साथ एक कार्यक्रम में हिस्सा लिया। हैरिस ने कहा, ‘‘ यदि हमें उन चुनौतियों का सामना करना है, तो इसका सामना सहयोगात्मक तरीके से करने की जरूरत है, हमें हर क्षेत्र के लोगों को सशक्त बनाना चाहिए, जिसमें यकीनन सरकार और उसके साथ ही समुदाय के नेता, व्यापार जगत के लोग, नागरिक समाज भी शामिल हैं....अगर हमें हमारे पास सामूहिक रूप से मौजूद संसाधनों को बढ़ाना है।’’

इसे भी पढ़ें: अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस बोलीं, चीन की दादागीरी से निपटने के लिए अमेरिका का साथ दे वियतनाम

अमेरिका रवाना होने से पहले हैरिस बृहस्पतिवार शाम को एक संवाददाता सम्मेलन भी करेंगी। वियतनाम को अभिव्यक्ति एवं प्रेस की स्वतंत्रता पर प्रतिबंध, देश में महिलाओं के खिलाफ व्यापक हिंसा और राजनीतिक असंतुष्टों के खिलाफ कार्रवाई के लिए काफी आलोचना का सामना करना पड़ा है। ऐसे में हैरिस ने ट्रांसजेंडर लोगों और महिलाओं के अधिकारों की रक्षा करने की आवश्यकता के बारे में तो बात की। उन्होंने वियतनाम सरकार की उसके उत्पीड़न के लिए कोई आलोचना नहीं की। इस कार्यक्रम में कई पत्रकार भी मौजदू थे। इस कार्यक्रम के साथ ही दक्षिण-पूर्व एशिया की हैरिस की यात्रा का समापन हुआ। हैरिस की सिंगापुर और वियतनाम यात्रा का लक्ष्य अमेरिका के इन देशों के साथ संबंधों को मजबूत करना और क्षेत्र में चीन के प्रभाव का मुकाबला करने के लिए अमेरिकी प्रयासों को तेज करना था।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़