फेसबुक को बांटने पर गंभीरता से विचार करने की जरूरत: हैरिस

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 13 2019 5:54PM
फेसबुक को बांटने पर गंभीरता से विचार करने की जरूरत: हैरिस
Image Source: Google

हैरिस 2020 के राष्ट्रपति चुनाव की होड़ में भी शामिल हैं। वह अभी कैलिफोर्निया से सांसद हैं जहां फेसबुक समेत अन्य अमेरिकी आईटी कंपनियों का मुख्यालय है।

वाशिंगटन। भारतीय मूल की पहली अमेरिकी सांसद कमला हैरिस ने कहा है कि अमेरिका को सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक को बांटने पर गंभीरता से विचार करना चाहिये। उन्होंने कहा कि फेसबुक एक ऐसी सुविधा है जिस पर कोई नियामकीय व्यवस्था लागू नहीं है। हैरिस 2020 के राष्ट्रपति चुनाव की होड़ में भी शामिल हैं। वह अभी कैलिफोर्निया से सांसद हैं जहां फेसबुक समेत अन्य अमेरिकी आईटी कंपनियों का मुख्यालय है।

भाजपा को जिताए

इसे भी पढ़ें: ईरान पर बातचीत के लिए सोमवार को ब्रसेल्स जाएंगे अमेरिका के विदेश मंत्री पोम्पिओ

हैरिस ने रविवार को सीएनएन से एक साक्षात्कार में कहा कि फेसबुक ने काफी वृद्धि की है और उसने अपने कारोबार की वृद्धि को उपभोक्ताओं के हितों, खास कर उनकी निजता के अिधकार के ऊपर रखा है। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि हमें गंभीरता से इसे देखना चाहिये। जब आप इसे देखेंगे, यह मूलत: एक उपयोगी सार्वजनिक सेवा है। ऐसे बहुत कम लोग हैं जो इससे बचे हुए हैं। हर कोई अपने समुदाय और समाज में तथा अपने पेशे में किसी न किसी स्तर पर फेसबुक का इस्तेमाल कर रहा है। वाणिज्य के किसी भी स्तर पर लोगों से फेसबुक के बिना जुड़ना बहुत मुश्किल है।

इसे भी पढ़ें: अमेरिकी थिंक टैंक ने ‘आयुष्मान भारत’ योजना की तारीफ की



हैरिस ने कहा कि अत: हमें इसकी वह पहचान करनी होगी जो वास्तव में यह है। यह आवश्यक सेवा है और यह नियमन के दायरे में अभी नहीं है। जहां तक मेरी बात है, इसके अनियमित रूप से चलने पर रोक लगनी चाहिये। इससे पहले 2020 के राष्ट्रपति चुनाव की उम्मीदवारी की एक अन्य डेमोक्रेट दावेदार सांसद एलिजाबेथ वारेन ने भी फेसबुक को बांटने की संभावना तलाशने पर जोर दिया था।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video