हजरत अमीर खुसरो के 715वें उर्स में हिस्सा लेने दिल्ली पहुंचे 100 पाकिस्तानी जायरीन

hundred-pakistan-pilgrims-visit-hazrat-amir-khusro-shrine-in-delhi
पाकिस्तानी उच्चायोग की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि हजरत अमीर खुसरो के 715वें उर्स में हिस्सा लेने के लिए 100 पाकिस्तानी जायरीनों का एक दल नयी दिल्ली की यात्रा पर है।

नयी दिल्ली। पाकिस्तानी उच्चायोग के राजनयिकों के साथ पाकिस्तानी जायरीनों का एक दल हजरत अमीर खुसरो की यहां स्थित दरगाह गया और अपने देश की सरकार और वहां के लोगों की ओर से पारंपरिक चादर चढ़ाई। पाकिस्तानी उच्चायोग की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि हजरत अमीर खुसरो के 715वें उर्स में हिस्सा लेने के लिए 100 पाकिस्तानी जायरीनों का एक दल नयी दिल्ली की यात्रा पर है।

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री अब्दुल सत्तार का 88 वर्ष की आयु में निधन

उच्चायोग के राजनयिकों और पाकिस्तानी जायरीनों के दल का दरगाह पर सज्जादा नशीन दीवान सैयद ताहिर निजामी ने स्वागत किया। बयान में कहा गया कि इस मौके पर दीवान मूसा निजामी और दरगाह कमेटी के अन्य सदस्य भी मौजूद थे। समूह ने इसी परिसर में स्थित हजरत निजामुद्दीन औलिया की दरगाह पर भी जियारत की।

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान ने अफगानिस्तान में शांति लाने की कोशिशों में सहयोग करने का संकल्प दोहराया

हजरत निजामुद्दीन औलिया के शिष्य हजरत अमीर खुसरो के उर्स में प्रत्येक वर्ष पाकिस्तान सहित पूरी दुनिया के देशों से जायरीन आते हैं। अमीर खुसरो दक्षिण एशिया के एक जानेमाने सूफी संगीतज्ञ, शायर और विद्वान थे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़