भूटान के साथ सहयोग बढ़ाने को भारत सर्वोच्च प्राथमिकता देता है: विदेश सचिव

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 20, 2018   17:40
भूटान के साथ सहयोग बढ़ाने को भारत सर्वोच्च प्राथमिकता देता है: विदेश सचिव

विदेश सचिव विजय गोखले रविवार से तीन दिन के भूटान दौरे पर थे और इस दौरान उन्होंने भूटानी नेताओं से कहा कि भारत पड़ोसी देश के साथ अपने सहयोग के दायरे को और बढ़ाने को सर्वोच्च प्राथमिकता देता है।

नयी दिल्ली। विदेश सचिव विजय गोखले रविवार से तीन दिन के भूटान दौरे पर थे और इस दौरान उन्होंने भूटानी नेताओं से कहा कि भारत पड़ोसी देश के साथ अपने सहयोग के दायरे को और बढ़ाने को सर्वोच्च प्राथमिकता देता है। विदेश मंत्रालय (एमईए) के मुताबिक गोखले के दौरे में दोनों पक्षों ने द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और पारस्परिक हितों के विभिन्न मुद्दों पर व्यापक चर्चा की। मंत्रालय ने कहा कि अपने भूटानी समकक्ष सोनम सोंग से बातचीत के अलावा विदेश सचिव ने भूटान के प्रधानमंत्री ल्योनच्चेन लोटे शेरिंग और विदेश मंत्री ल्योनपो तांडी दोरजी से भी मुलाकात की। शेरिंग ने पिछले महीने भूटान में अपनी पार्टी के आम चुनाव जीतने के बाद प्रधानमंत्री पद की शपथ ली थी। इस हिमालयी राष्ट्र में चुनाव के बाद भारत की तरफ से यह पहला उच्चस्तरीय भूटान दौरा है। गोखले ने नरेश जिग्मे खेसर नामग्याल वांगचुक और पूर्व नरेश जिग्मे सिंगये वांगचुक से भी मुलाकात की। 

मंत्रालय ने कहा, ‘‘अपनी चर्चाओं में विदेश सचिव ने यह स्पष्ट किया कि भारत भूटान के साथ अपनी दोस्ती और सहयोग को और विस्तार देने को सर्वोच्च प्राथमिकता देता है जो भूटान की शाही सरकार की प्राथमिकताओं पर आधारित है।’’हालांकि यह अभी पता नहीं चल पाया कि गोखले और भूटान के विदेश सचिव के बीच बातचीत के दौरान क्या भारत, भूटान और चीन के बीच विवाद बना डोकलाम का मुद्दा भी उठा। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।