बाइडन जानते हैं कि Indian-American समुदाय उनके लिए खास है: भारतवंशी मेयर

Biden
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Commons
सिनसिनाटी के भारतवंशी मेयर आफताब पुरेवल ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन इस बात को समझते हैं कि भारतीय अमेरिकी समुदाय के पास देश की लोक सेवा में योगदान देने के लिए बहुत कुछ है और यह समुदाय उनके लिए खास है। बाइडन के प्रशासन में सबसे ज्यादा भारतीय मूल के लोग शामिल हैं।

सिनसिनाटी के भारतवंशी मेयर आफताब पुरेवल ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन इस बात को समझते हैं कि भारतीय अमेरिकी समुदाय के पास देश की लोक सेवा में योगदान देने के लिए बहुत कुछ है और यह समुदाय उनके लिए खास है। बाइडन के प्रशासन में सबसे ज्यादा भारतीय मूल के लोग शामिल हैं। पुरेवल ने व्हाइट हाउस में ‘अमेरिकी कॉन्फ्रेंस ऑफ मेयर्स विंटर मीटिंग’ से इतर पीटीआई को साक्षात्कार मेंकहा, “ इसका (प्रशासन के अहम पदों पर इतने सारे भारतीय-अमेरिकियों और दक्षिण एशियाइयों की नियुक्ति का) मतलब है कि राष्ट्रपति बाइडन समुदाय को हल्के में नहीं लेते हैं। वह समझते हैं कि हम कितने खास हैं और हमारे पास देश की लोक सेवा में योगदान प्रदान करने के लिए बहुत कुछ है।”

पुरेवल ओहियो राज्य के तीसरे सबसे बड़े शहर सिनसिनाटी के मेयर चुने जाने वाले पहले भारतीय-अमेरिकी, तिब्बती-अमेरिकी और एशियाई अमेरिकी हैं। उन्होंने पद की चार जनवरी को शपथ ली थी। मेयर ने पिछले हफ्ते ही अमेरिका में भारतीय राजदूत तरनजीत सिंह संधू से सिनसिनाटी में मुलाकात की थी। दोनों का ताल्लुक पंजाब से है। उन्होंने कहा, “ मैंने अपने परिवार के इतिहास के बारे में बात की। मेरे पिता पंजाब से हैं। वह (तरनजीत सिंह संधू) भी पंजाब से हैं। हमने उस बारे में बहुत सारी बातें कीं। मैंने हाल में धर्मशाला में दलाई लामा से भी मुलाकात की थी। मैंने उन्हें अपनी यात्रा के बारे में जानकारी दी।”

पुरवेल ने कहा, “लेकिन मोटे तौर पर हमने इस बारे में बात की कि कैसे सिनसिनाटी और ओहियो भारत के साथ अपने संबंधों को मजबूत करना जारी रख सकता है। हमारे यहां बहुत सारे भारतीय अप्रवासी हैं, भारतीय मूल के लोग न केवल हमारे शहर में बल्कि त्रि-राज्य क्षेत्र में हैं। यह सम्मान की बात थी उन्होंने मुझसे और हमारे व्यापार और समुदाय के नेताओं से मिलने के लिए सिनसिनाटी आने का फैसला किया। मैं बहुत आभारी हूं कि हमारा इतना मजबूत रिश्ता है।” मेयर ने कहा, “मुझे इस बात के लिए अपने समुदाय, भारतीय और तिब्बती समुदायों पर बहुत गर्व है किहमने इस देश में कितना कुछ हासिल किया है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़