तालिबान ने नहीं दिए शांति समझौते के प्रति गंभीरता के संकेत

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 22, 2018   17:13
तालिबान ने नहीं दिए शांति समझौते के प्रति गंभीरता के संकेत

अफगानिस्तान के मुख्य कार्यकारी अब्दुल्ला अब्दुल्ला का कहना है कि अमन कायम करने की दिशा में अमेरिका के नए सिरे से किए गए प्रयासों के बावजूद तालिबान ने 17 साल से जारी आतंक को खत्म करने के कोई संकेत नहीं दिए हैं।

पेरिस। अफगानिस्तान के मुख्य कार्यकारी अब्दुल्ला अब्दुल्ला का कहना है कि अमन कायम करने की दिशा में अमेरिका के नए सिरे से किए गए प्रयासों के बावजूद तालिबान ने 17 साल से जारी आतंक को खत्म करने के कोई संकेत नहीं दिए हैं। अब्दुल्ला ने समझौते की संभावना को लेकर शंका जाहिर की है। उन्होंने कहा, "मैं अपने अनुभव से कह सकता हूं कि तालिबान ने शांतिवार्ता में गंभीरता से शामिल होने की कोई मंशा जाहिर नहीं की है।’’उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय और खासकर अमेरिका ने समझौते के लिए हाल ही में नए सिरे से प्रयास किए हैं।

गुरुवार को फ्रांस की तीन दिवसीय यात्रा खत्म कर काबुल लौटते हुए अब्दुल्ला ने कहा कि वह कतर में पिछले हफ्ते तालिबान और अमेरिकी राजदूत के बीच हुई बातचीत के बारे में जानकारी लेंगे। उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान में अगले साल अप्रैल के लिए निर्धारित राष्ट्रपति चुनाव समय पर होने चाहिए। साथ ही शांति प्रयासों को भी जारी रखा जाना चाहिए। अब्दुल्ला का ये बयान हाल ही में काबुल में एक बैंक्वेट हॉल पर हुए बम हमले के बाद आया है। पैगंबर मोहम्मद के जन्मदिन के मौके रखे गए एक समारोह के दौरान हुए उस हमले में 55 लोगों की मौत हो गई थी। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

अंतर्राष्ट्रीय

झरोखे से...