ईरान ने की मांग, जिब्राल्टर में पकड़े गए तेल टैंकर को छोड़े ब्रिटेन

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 5 2019 5:31PM
ईरान ने की मांग, जिब्राल्टर में पकड़े गए तेल टैंकर को छोड़े ब्रिटेन
Image Source: Google

मंत्रालय ने एक बयान में बताया कि ईरानी विदेश मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने देश में ब्रिटेन के राजदूत रॉब मैकेयर के साथ बैठक में ‘‘ब्रिटेन के कदम को अस्वीकार्य’’ बताया। मैकेयर को औपचारिक विरोध दर्ज कराने के लिए तलब किया गया था।

तेहरान। ईरान ने ब्रिटेन पर अमेरिका के इशारे पर काम करने का आरोप लगाते हुए शुक्रवार को मांग की कि ब्रिटेन जिब्राल्टर में पकड़े गए तेल टैंकर को तत्काल छोड़े। मंत्रालय ने एक बयान में बताया कि ईरानी विदेश मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने देश में ब्रिटेन के राजदूत रॉब मैकेयर के साथ बैठक में ‘‘ब्रिटेन के कदम को अस्वीकार्य’’ बताया। मैकेयर को औपचारिक विरोध दर्ज कराने के लिए तलब किया गया था।

 
बयान में कहा गया कि अधिकारी ने ‘‘अमेरिका के अनुरोध पर जब्त किए गए तेल टैंकर को तत्काल छोड़े जाने की मांग की’’। जिब्राल्टर में प्राधिकारियों ने कहा कि उन्हें संदेह है कि वह यूरोपीय संघ के प्रतिबंधों का उल्लंघन कर कच्चा तेल सीरिया ले जा रहा था। 330 मीटर लंबे ‘ग्रेस 1’ टैंकर को ऐसे समय में पकड़ा गया है जब ईरान और यूरोपीय संघ के संबध संवेदनशील दौर से गुजर रहे हैं।


ईरान ने कहा है कि 2015 में परमाणु करार में जिस अधिकतम यूरेनियम संवर्धन पर सहमति बनी है, वह उसका उल्लंघन करेगा। यूरोपीय संघ इस पर विचार कर रहा है कि इस घोषणा के बाद आगे क्या कार्रवाई की जाए। जिब्राल्टर में बृहस्पतिवार तड़के पुलिस और सीमाशुल्क एजेंसियों ने टैंकर को रोक लिया था। जिब्राल्टर स्पेन के दक्षिण छोर पर छोटा ब्रितानी क्षेत्र है।


रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप