आईएस ने ली जकार्ता बस स्टेशन हमले की जिम्मेदारी

आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) ने जकार्ता बस टर्मिनल में हुए दो आतंकवादी हमलों की जिम्मेदारी ली है। इस हमले में तीन पुलिसकर्मी मारे गए थे।

 जकार्ता। आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) ने जकार्ता बस टर्मिनल में हुए दो आतंकवादी हमलों की जिम्मेदारी ली है। इस हमले में तीन पुलिसकर्मी मारे गए थे। समीक्षकों ने इन दावों को सच बताया है और उनका मानना है कि आईएस से जुड़े स्थानीय आतंकवादियों के नेटवर्क जमाह अंसारूत दौलाह (जेएडी) ने आतंकवादी हमलों को अंजाम दिया है। बुधवार देर रात राजधानी के एक व्यस्त टर्मिनल में दो आत्मघाती हमलावरों ने हमला किया था जिसके बाद क्षेत्र में कांच के टुकड़े और मानव अंग यहां वहां बिखरने से दहशत फैल गई।

कांमपुंग मेलायू टमिर्नल में हमले में तीन पुलिसकर्मी मारे गए थे और पांच अन्य अधिकारी और पांच नागरिक घायल हो गए थे। अधिकारियों ने संदिग्ध हमलावरों के मकानों पर गुरुवार को छापे मारे थे। इस दौरान उन्हें वहां से इस्लाम से जुड़ी पाठ्य-सामग्री और धारदार हथियार मिले थे। आईएस की प्रोपोगैंडा एजेंसी अमाक ने गुरुवार देर रात कहा, ‘‘जकार्ता में पुलिसकर्मियों की भीड़ को निशाना बना कर जो हमला किया गया वह इस्लामिक स्टेट के एक लड़ाके ने किया था। अमेरिका ने जनवरी में जेएडी को आतंकवादी घोषित किया था। यह करीब दो दर्जन कट्टरपंथी गुटों का मुख्य संगठन है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़