अमेरिका में अश्वेत को गोली मारने का विरोध, प्रदर्शनकारियों और पुलिस की झड़प

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अगस्त 25, 2020   19:13
अमेरिका में अश्वेत को गोली मारने का विरोध, प्रदर्शनकारियों और पुलिस की झड़प

अमेरिका में काले व्यक्ति को गोली मारने के बाद प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बाद झड़प शुरू हो गई है। रात आठ बजे कर्फ्यू के प्रभाव में आने के लगभग 30 मिनट बाद पुलिस ने पहली बार आंसू गैस का इस्तेमाल किया, लेकिन प्रदर्शनकारी टस से मस नहीं हुए।

केनोशा (अमेरिका)।अमेरिका में विस्कॉन्सिन के दक्षिणपूर्वी केनोशा शहर में पुलिस द्वारा एक काले व्यक्ति को गोली मारे जाने की घटना को लेकर सोमवार रात भी आक्रोश बरकरार रहा। इस दौरान पुलिस ने कर्फ्यू का उल्लंघन करने, अधिकारियों पर बोतलें फेंकने और आगजनी करने वाले सैंकड़ों प्रदर्शनकारियों पर एक बार फिर आंसू गैस का इस्तेमाल किया। गोलीबारी की यह घटना रविवार शाम करीब पांच बजे हुई, जिसका वीडियो ऑनलाइन पोस्ट किया गया है। इस वीडियो क्लिप को सड़क के दूसरी तरफ से बनाया गया है और इसमें एक काला व्यक्ति फुटपाथ पर चलते हुए अपनी गाड़ी के सामने की तरफ आता है और ड्राइवर के तरफ वाला दरवाजा खोलता है तभी उसकी तरफ बंदूक ताने उसके पीछे आ रहा अधिकारी उस पर चिल्लाता है।

इसे भी पढ़ें: अमेरिकी राज्य विस्कॉन्सिन में पुलिस के अश्वेत व्यक्ति को गोली मारने के बाद व्यापक विरोध प्रदर्शन

जैसे ही व्यक्ति चालक की तरफ वाला दरवाजा खोलकर अंदर झुकता है, एक अधिकारी पीछे से उसकी शर्ट पकड़कर पीछे खींचता है और गाड़ी पर गोलियां चलाना शुरू कर देता है। इस व्यक्ति की पहचान जैकब ब्लैक के तौर पर हुई है। इस घटना को लेकर सोमवार रात भी प्रदर्शन जारी रहा और प्रदर्शनकारियों की पुलिस अधिकारियों के साथ झड़प हो गई। रात आठ बजे कर्फ्यू के प्रभाव में आने के लगभग 30 मिनट बाद पुलिस ने पहली बार आंसू गैस का इस्तेमाल किया, लेकिन प्रदर्शनकारी टस से मस नहीं हुए। बल्कि सैंकड़ो प्रदर्शनकारी वहां जमा हो गए और पुलिस पर चिल्लाने लगे। इस बीच 29 वर्षीय ब्लैक अस्पताल में भर्ती है, जहां उसकी हालत गंभीर बताई गई है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।