जापान सरकार पर्यटकों को लुभाने का कर रही प्रयास, घूमने आने पर देगी आधा पैसा !

जापान सरकार पर्यटकों को लुभाने का कर रही प्रयास, घूमने आने पर देगी आधा पैसा !

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जापान यह योजना सिर्फ घरेलू पर्यटकों पर ही लागू करने का विचार कर रहा है। वहीं ये भी कहा जा रहा है कि ट्रैवल बैन हटाए जाने के बाद इटली की ही तर्ज पर अंतरराष्ट्रीय पर्यटकों को भी पैकेज में राहत दी जा सकती है।

कोरोना वायरस की मार सबसे ज्यादा पर्यटन सेक्टर को झेलनी पड़ी और अब इस सेक्टर को जीवंत करने के लिए तमाम मुल्कों की सरकारे तरह-तरह के कदम उठा रही हैं। पिछले महीने इटली ने पर्यटकों को लुभाने के लिए एयरलाइन्स का आधा किराया देने की घोषणा की थी और अब जापान भी इस दिशा की तरफ कदम बढ़ा रहा है।

जापान की टूरिजम एजेंसी ने पर्यटकों को बजट का कुछ हिस्सा खुद उठाने का निर्णय किया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इटली के सिसली ने कोरोना के बाद आने वाले पर्यटकों की एयरलाइन्स का आधा किराया देने का निर्णय किया था जिसके बाद अब जापान ने भी एक प्रस्ताव पेश किया है लेकिन अभी इसकी विस्तृत जानकारी सामने नहीं आई है। 

इसे भी पढ़ें: जापान के पीएम के करीबी अभियोजक पर लगा जुआ स्कैंडल का आरोप, तोड़ा कोरोना लॉकडाउन का नियम 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जापान यह योजना सिर्फ घरेलू पर्यटकों पर ही लागू करने का विचार कर रहा है। वहीं ये भी कहा जा रहा है कि ट्रैवल बैन हटाए जाने के बाद इटली की ही तर्ज पर अंतरराष्ट्रीय पर्यटकों को भी पैकेज में राहत दी जा सकती है।

जापान को आएगी 12.5 अरब करोड़ डॉलर की लागत

एक अनुमान में जताया गया है कि इस योजना पर जापान को लगभग 12.5 अरब करोड़ डॉलर की लागत आएगी। माना जा रहा है कि जापान से सभी तरह के ट्रैवल बैन हटाए जाने के बाद इसे लागू किया जा सकता है। फिलहाल इस पर अभी कोई भी औपचारिक ऐलान नहीं हुआ है। 

इसे भी पढ़ें: कोरोना महामारी का निर्यात पर दिखा असर, जापान में पिछले 10 सालों की सबसे बड़ी गिरावट

व्यवसायों को मिल रही धीरे-धीरे इजाजत

कोरोना महामारी के चलते जापान ने आपातकाल की घोषणा की थी। जिसके बाद अब व्यवसायों को धीरे-धीरे फिर से शुरू करने की अनुमति देकर आपातकाल हटाने का मार्ग प्रशस्त किया जा रहा है। बता दें कि अर्थव्यवस्था मंत्री यासुतोषी निशिमुरा ने कहा कि सरकार द्वारा गठित पैनल के विशेषज्ञों ने डेढ़ महीने से अधिक समय तक चले आपातकाल की स्थिति को समाप्त करने की योजना को मंजूरी दे दी है। वहीं, जापान में कोरोना संक्रमण के कुल 16,569 मामले हैं। जबकि 825 लोगों की मौत हो चुकी है। लेकिन सरकार द्वारा लगाई गई कई तरह की पाबंदियों के चलते पर्यटन और अर्थव्यवस्था को काफी नुकसान हुआ है जिसकी धीरे-धीरे सरकार भरपाई करने में जुटी हुई है।