किर्गिस्तान और ताजिकिस्तान ने सीमा पर लड़ाई खत्म करने के लिए बातचीत की

Kyrgyzstan and Tajikistan
प्रतिरूप फोटो
reuters.com
किर्गिस्तान के स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार तड़के कहा कि संघर्ष में मारे गए 24 लोगों के शवों को तजाकिस्तान की सीमा से लगे बाटकेन क्षेत्र के अस्पतालों में पहुंचाया गया। मंत्रालय ने कहा कि किर्गिस्तान के अस्पतालों और क्लीनिकों में भी गोलाबारी में घायल हुए 103 लोगों का उपचार हुआ।

किर्गिस्तान और तजाकिस्तान के सुरक्षा प्रमुखों ने दोनों देशों के बीच सीमा पर लड़ाई को रोकने के लिए शनिवार को बातचीत की। किर्गिज सीमा सेवा ने वार्ता के नए दौर की घोषणा की। हालांकि, दोनों पूर्व-सोवियत राष्ट्रों ने गोलाबारी के लिए एक दूसरे पर आरोप लगाया। रात भर के संक्षिप्त विराम के बाद दोनों देशों के बीच शनिवार की सुबह फिर से गोलीबारी शुरू हुई। किसी स्पष्ट या सार्वजनिक रूप से घोषित कारण के बिना बुधवार से शुरू हुई लड़ाई शुक्रवार को तेज हो गई।

किर्गिस्तान के स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार तड़के कहा कि संघर्ष में मारे गए 24 लोगों के शवों को तजाकिस्तान की सीमा से लगे बाटकेन क्षेत्र के अस्पतालों में पहुंचाया गया। मंत्रालय ने कहा कि किर्गिस्तान के अस्पतालों और क्लीनिकों में भी गोलाबारी में घायल हुए 103 लोगों का उपचार हुआ। यह तुरंत स्पष्ट नहीं हो पाया कि क्या तजाकिस्तान की ओर से कोई हताहत हुआ था यह नहीं। ताजिक अधिकारियों ने, हालांकि किर्गिज सुरक्षा बलों पर एक मस्जिद को नष्ट करने और आवासीय भवनों सहित नागरिक बुनियादी ढांचे को निशाना बनाने का आरोप लगाया।

तजाकिस्तान के सुरक्षा अधिकारियों ने यह भी आरोप लगाया कि किर्गिस्तान ‘‘उकसावे वाली कार्रवाई के तहत’’ सीमा के पास सैनिकों और सैन्य उपकरणों को इकट्ठा कर रहा था। हालांकि, यह भी स्पष्ट नहीं है कि सोवियत मध्य एशियाई पड़ोसियों के बीच सीमा पर तनावपूर्ण लड़ाई किस वजह से हुई। शुक्रवार दोपहर को संघर्ष विराम स्थापित करने का प्रयास विफल रहा और दिन में बाद में गोलाबारी फिर से शुरू हो गई। किर्गिस्तान के आपात मंत्रालय ने कहा कि लड़ाई से घिरे इलाके से 136,000 लोगों को बाहर निकाला गया है। दोनों देशों के सीमा रक्षक प्रमुखों ने लगभग आधी रात को मुलाकात की और शत्रुता को समाप्त करने में मदद करने के लिए एक संयुक्त निगरानी समूह बनाने पर सहमति व्यक्त की।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़