मरियम नवाज ने पाक PM इमरान खान की कड़ी आलोचना की, मांगा इस्तीफा

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 8 2019 12:30PM
मरियम नवाज ने पाक PM इमरान खान की कड़ी आलोचना की, मांगा इस्तीफा
Image Source: Google

पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन)की 45 वर्षीय उपाध्यक्ष ने खान के खिलाफ नारेबाजी की और कहा कि क्रिकेटर से राजनेता बने 66 वर्षीय इमरान खान को पाकिस्तान पर शासन करने का कोई कानूनी अधिकार नहीं है।

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बेटी मरियम नवाज ने प्रधानमंत्री इमरान खान की कड़ी आलोचना की है और उनसे इस्तीफा मांगा है। सोमवार को मीडिया में यह जानकारी सामने आई। मंडी बहाउद्दीन में रविवार की मध्यरात्रि रैली में विपक्षी पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन)की 45 वर्षीय उपाध्यक्ष ने खान के खिलाफ नारेबाजी की और कहा कि क्रिकेटर से राजनेता बने 66 वर्षीय इमरान खान को पाकिस्तान पर शासन करने का कोई कानूनी अधिकार नहीं है।



‘डॉन’ ने खबर दी है कि अपने भाषण में खान को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘अपना इस्तीफा दीजिए। घर जाईये।’’ उन्होंने भीड़ से अपने साथ नारा दुहराने का अनुरोध किया। मरियम ने यह भी कहा कि शनिवार के ‘साक्ष्य’ के बाद 69 वर्षीय उनके बीमार पिता शरीफ को जेल में रखना एक अपराध होगा। उन्होंने आरोप लगाया कि नवाज शरीफ को ‘‘अप्रत्यक्ष दबाव‘‘ के तहत सजा दी गई थी, जिस दावे को पीठासीन न्यायाधीश अरशद मलिक ने रविवार को खारिज कर दिया।

इसे भी पढ़ें: भ्रष्टाचार के मामले में NAB ने शहबाज शरीफ को 12 जुलाई को पेश होने का दिया निर्देश

जेल रोड पर आयोजित रैली में अपने संबोधन में उन्होंने दावा किया कि शरीफ ‘‘को रिहा किया जाएगा और एक बार फिर वह प्रधानमंत्री बनेंगे और अगली बार वह पहले से कही अधिक शक्तिशाली होंगे।’’ लाहौर में शनिवार को एक संवाददाता सम्मेलन में मरियम ने कहा कि जिसके कारण उनके पिता को दोषी ठहराया गया और जेल की सजा हुई, उस मुकदमे के संबंध में संपूर्ण न्यायिक प्रक्रिया में गंभीर रूप से समझौता किया गया। उन्होंने एक गोपनीय वीडियो भी चलाया जिसके बारे में उन्होंने दावा किया कि वीडियो में शरीफ का एक वफादार प्रशंसक नसीर भट्ट और मलिक के बीच में बातचीत है जिसे पिछले साल दिसंबर में अल अजिजिया स्टील मिल भ्रष्टाचार से जुड़े मामले में सात साल की जेल और फ्लैगशिप इनवेस्टमेंट मामले में बरी किया था। हालांकि, रविवार को मलिक ने मरियम के आरोपों को खारिज कर दिया और कहा कि शरीफ को साक्ष्यों के आधार पर दोषी ठहराया गया था।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story