रूस में अपना कारोबार बेचेगी McDonalds, अभी कर्मचारियों को भुगतान जारी रखेगी

McDonalds
Google common license
मैकडॉनल्ड्स अब रूस में अपना कारोबार बेचेगी।कंपनी ने युद्ध के कारण मानवीय संकट की ओर इशारा करते हुए कहा कि रूस में कारोबार करना अब उचित नहीं है और न ही यह मैकडॉनल्ड्स के मूल्यों के अनुरूप है।शिकॉगो स्थित कंपनी ने मार्च की शुरुआत में कहा था कि वह अस्थायी रूप से रूस में अपने स्टोर बंद कर रही है।

शिकॉगो। फास्टफूड रेस्तरां श्रृंखला मैकडॉनल्ड्स ने सोमवार को कहा कि उसने अपने रूसी कारोबार को बेचने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। रूस में कंपनी के 850 रेस्तरां हैं, जिसमें 62,000 लोग काम करते हैं। मैकडॉनल्ड्स यूक्रेन पर हमले के बाद रूस से बाहर निकलने वाली पश्चिम की एक और प्रमुख कंपनी है। कंपनी ने युद्ध के कारण मानवीय संकट की ओर इशारा करते हुए कहा कि रूस में कारोबार करना अब ‘‘उचित नहीं है और न ही यह मैकडॉनल्ड्स के मूल्यों के अनुरूप है।’’

इसे भी पढ़ें: क्या श्रीलंका जैसे हो जाएंगे बांग्लादेश के हालात ? पड़ोसी मुल्क के पास 5 महीने का ही विदेशी मुद्रा भंडार !

शिकॉगो स्थित कंपनी ने मार्च की शुरुआत में कहा था कि वह अस्थायी रूप से रूस में अपने स्टोर बंद कर रही है, लेकिन कर्मचारियों को भुगतान करना जारी रखेगी। कंपनी ने सोमवार को कहा कि वह इस बात की संभावनाएं तलाश रही है कि कोई रूसी खरीदार इन श्रमिकों को काम पर रख ले। कंपनी ने कहा कि वह बिक्री बंद रहने तक उन्हें भुगतान करती रहेगी। मैकडॉनल्ड्स ने संभावित खरीदार की पहचान नहीं बताई। कंपनी के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) क्रिस केम्पजिंस्की ने कहा कि कर्मचारियों और सैकड़ों रूसी आपूर्तिकर्ताओं के मैकडॉनल्ड्स के प्रति समर्पण के चलते यह फैसला काफी कठिन था। उन्होंने एक बयान में कहा, ‘‘हालांकि, वैश्विक समुदाय के लिए हमारी प्रतिबद्धता है और हमें अपने मूल्यों पर दृढ़ रहना चाहिए।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़