सीरिया में जिहादियों के बीच संघर्ष में करीब 100 लड़ाकों की हुई मौत

nearly-100-fighters-die-in-conflict-between-jihadists-in-syria
सीरियन ऑब्जर्वेट्री फॉर ह्यूमन राइट्स ने बताया कि उत्तरी हमा प्रांत में जंग लड़ रहे सीरिया समर्थक बलों की बमबारी के बाद शुक्रवार तड़के संघर्ष शुरू हुआ। इसमें सरकार समर्थक बलों और सहयोगी मिलिशिया के 50 कर्मी मारे गये। जान गंवाने वाले विद्रोहियों और जिहादियों की संख्या 45 है।

बेरूत। सीरिया में शुक्रवार को सरकार समर्थक बलों, विद्रोहियों और जिहादियों के बीच संघर्ष में 100 लड़ाकों की मौत हो गयी। युद्ध की निगरानी करने वाली एक संस्था ने यह जानकारी दी। सीरियन ऑब्जर्वेट्री फॉर ह्यूमन राइट्स ने बताया कि उत्तरी हमा प्रांत में जंग लड़ रहे सीरिया समर्थक बलों की बमबारी के बाद शुक्रवार तड़के संघर्ष शुरू हुआ। इसमें सरकार समर्थक बलों और सहयोगी मिलिशिया के 50 कर्मी मारे गये। जान गंवाने वाले विद्रोहियों और जिहादियों की संख्या 45 है।

इसे भी पढ़ें: पुतिन, ट्रंप G20 में ईरान और सीरिया संकट पर करेंगे चर्चा

ब्रिटेन के ऑब्जर्वेट्री ने बताया कि संघर्ष दोपहर तक चलता रहा। सीरिया की आधिकारिक समाचार एजेंसी ‘सना’ ने शुक्रवार को बमबारी की खबर दी। सना की खबर के अनुसार, ‘‘सैन्य इकाइयों ने तड़के जिबिन और ताल मालेह गांवों में तथा इनके आस-पास स्थित आतंकवादी संगठन अल-नुसरा फ्रंट के ठिकानों पर भारी बमबारी की।

इसे भी पढ़ें: रूस और सीरिया सरकार के हवाई हमले में नौ लोगों की मौत

इसने बताया कि बमबारी में आतंकवादियों के ठिकाने और उनकी रक्षा प्रणाली तबाह हो गयी। समाचार एजेंसी ने बताया कि इसके जवाब में आतंकवादियों ने हमा में गांवों और शहरों को निशाना बनाकर हमले किये गये। तुर्की के रक्षा मंत्रालय ने शुक्रवार को बताया कि एक दिन पहले इदलिब प्रांत में तुर्की निगरानी चौकी के खिलाफ सीरिया के सरकार समर्थक बलों की गोलीबारी तुर्की सैनिक की मौत हो गयी और तीन अन्य घायल हो गये।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़