न्यूजीलैंड ने भारतीय छात्रों के लिये 32 छात्रवृत्ति घोषित की, 25 नवंबर तक कर सकते हैं आवेदन

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 24, 2019   17:20
न्यूजीलैंड ने भारतीय छात्रों के लिये 32 छात्रवृत्ति घोषित की, 25 नवंबर तक कर सकते हैं आवेदन

स्नातकोत्तर छात्रवृत्ति के तहत प्रत्येक चयनित छात्र को 5000 डालर दिया जायेगा जबकि स्नातक छात्रवृत्ति के तहत 10 हजार डालर दिया जायेगा। अधिकारियों ने बताया कि पिछले वित्त वर्ष में न्यूजीलैंड के विश्वविद्यालयों में पढ़ने आने के लिये वीजा में 63 फीसदी की बढ़ोत्तरी दर्ज की गयी है।

नयी दिल्ली। न्यूजीलैंड ने शैक्षणिक सत्र 2019-20 के लिये भारतीय छात्रों के वास्ते ‘न्यूजीलैंड एक्सेलेंस अवार्ड’के तहत 32 छात्रवृत्ति घोषित की हैं। न्यूजीलैंड उच्चायोग में इसकी घोषणा करते हुए एजुकेशन न्यूजीलैंड के मुख्य कार्यकारी ग्रांट मैकपर्सन ने कहा, ‘‘इसके लिये 25 नवंबर तक आवेदन किये जा सकते हैं।’’ उन्होंने बताया कि न्यूजीलैंड एक्सेलेंस अवार्ड के माध्यम से प्रतिभावान भारतीय छात्रों को विज्ञान, प्रौद्योगिकी, इंजीनियरिंग एवं गणित में विशेषज्ञ कोर्स करने में मदद मिलेगी। इसके तहत 30 स्नातकोत्तर छात्रवृत्ति तथा दो स्नातक छात्रवृत्ति हैं। स्नातकोत्तर छात्रवृत्ति के तहत प्रत्येक चयनित छात्र को 5000 डालर दिया जायेगा जबकि स्नातक छात्रवृत्ति के तहत 10 हजार डालर दिया जायेगा। अधिकारियों ने बताया कि पिछले वित्त वर्ष में न्यूजीलैंड के विश्वविद्यालयों में पढ़ने आने के लिये वीजा में 63 फीसदी की बढ़ोत्तरी दर्ज की गयी है। 

इसे भी पढ़ें: बिग बैश फाइनल में टाई होने पर नतीजा निकलने तक जारी रहेंगे सुपर ओवर

भारत में न्यूजीलैंड की उच्चायुक्त जोएना केम्पकर्स ने कहा कि न्यूजीलैंड, भारत से दूर है, हालांकि दोनों देशों के संबंध काफी करीबी हैं जो 14वीं शताब्दी से शुरू होते हैं। उन्होंने कहा कि न्यूजीलैंड में भारतीय मूल के लोगों की संख्या वहां की आबादी की चारप्रतिशत है और हिन्दी वहां चौथी सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है। केम्पकर्स ने कहा कि पर्यटन, लोगों के बीच सम्पर्क एवं सांस्कृतिक आदान प्रदान सहित शिक्षा के क्षेत्रों में दोनों देशों में सहयोग काफी बढ़ा है। उन्होंने जोर दिया कि भारत..प्रशांत क्षेत्र दोनों देशों से संबद्ध है और आगे बढ़ते एवं आधुनिक भारत के संदर्भ में हम सहयोग को और मजबूत बनाने को प्रतिबद्ध हैं। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

अंतर्राष्ट्रीय

झरोखे से...