अब मां ही नहीं रोबोट भी कर सकेंगे बच्चे पैदा, वैज्ञानिकों ने की बड़ी खोज

अब मां ही नहीं रोबोट भी कर सकेंगे बच्चे पैदा, वैज्ञानिकों ने की बड़ी खोज

वैज्ञानिकों के मुताबिक, अफ्रीकी मेंढकों के स्टेम कोशिकाओं का उपयोग कर दुनिया का पहला जीवित रोबोट तैयार किया गया है। ज़ेनोबोट्स के नाम से जाने वाला यह रोबोट साल 2020 में पहली बार समाने पेश किया गाय था। यह बहुत छोटे साइज के है और यह इंसानों की तरह भी चल सकते है।

अब रोबोट प्रजनन भी कर सकते हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, दुनिया के जीवित रोबोट बनाने वाले अमेरिकी वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि जल्द रोबोट भी प्रजनन कर सकेंगे। इन जीवित रोबोट को ज़ेनोबोट्स (Xenobots) का नाम दिया गया है। वैज्ञानिकों के मुताबिक, अफ्रीकी मेंढकों के स्टेम कोशिकाओं का उपयोग कर दुनिया का पहला जीवित रोबोट तैयार किया गया है। ज़ेनोबोट्स के नाम से जाने वाला यह रोबोट साल 2020 में पहली बार समाने पेश किया गाय था। यह बहुत छोटे साइज के है और यह इंसानों की तरह भी चल सकते है। 

क्या-क्या है खासियत

यह रोबोट बिना भोजन के हफ्तों तक रह सकते हैं और अपना उपचार भी कर सकते हैं। इस रोबोट को वर्मोंट विश्वविद्यालय, टफ्ट्स विश्वविद्यालय और हार्वर्ड विश्वविद्यालय के वायस इंस्टीट्यूट फॉर बायोलॉजिकल इंस्पायर्ड इंजीनियरिंग में विकसित किया गया है। इन रोबोट को मेढ़क की कोशिकाओं से तैयार किया गया है।एक साथ कई काम करने वाला यह रोबोट क सिंगल कोशिकाओं को जोड़कर तैयार किया गया है। एक्सपर्ट कहते है कि, इंसान की तरह ही मेढ़क की कोशिकाएं भी शरीर का निर्माण करती हैं। वैज्ञानिकों ने मेंढक के भ्रूण से जीवित स्टेम कोशिकाओं को स्क्रैप कर इनक्यूबेट करने के लिए छोड़ दिया था।