अमेरिका में 10 लाख के पार हुई संक्रमितों की संख्या, मरने वालों की संख्या 59000 के करीब

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 29, 2020   08:52
अमेरिका में 10 लाख के पार हुई संक्रमितों की संख्या, मरने वालों की संख्या 59000 के करीब

अमेरिका में करीब 59,000 लोगों की मौत के साथ ही दुनियाभर में 2,13,000 से अधिक लोगों की मौत की यह एक चौथाई संख्या है। ट्रंप ने कहा, ‘‘अब हमारे विशेषज्ञों का मानना है कि इस वैश्विक महामारी का बुरा दौर बीत चुका है और अमेरिकी हमारे देश को सुरक्षित तथा तेजी से फिर से खोलने की ओर देख रहे हैं।’’

वाशिंगटन। अमेरिका में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 10 लाख के पार चली गई और इससे मरने वाले लोगों की संख्या 59,000 के करीब पहुंच गई है। हालांकि कई राज्यों ने संक्रमण और मौत के मामलों में गिरावट के संकेतों के बीच अपनी अर्थव्यवस्थाओं को फिर से खोलने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने व्हाइट हाउस में कहा, ‘‘हम मृतकों के साथ-साथ उन अमेरिकियों के लिए प्रार्थना करते रहेंगे जिन्होंने अपने प्रियजनों को खो दिया। ऐसा पहले कभी कुछ नहीं हुआ। हम दिल से चोट खाए हुए हैं लेकिन हम मजबूत बने रहेंगे। हम वापसी कर रहे हैं और हम मजबूती से वापसी कर रहे हैं।’’ अमेरिका मंगलवार को दुनिया का पहला ऐसा देश बन गया है जहां कोरोना वायरस के मामले 10 लाख के पार चले गए। यह दुनियाभर में आए 31 लाख मामलों का करीब एक तिहाई है।

इसे भी पढ़ें: चीन 22 मई से संसद का वार्षिक सत्र आयोजित करेगा

वहीं अमेरिका में करीब 59,000 लोगों की मौत के साथ ही दुनियाभर में 2,13,000 से अधिक लोगों की मौत की यह एक चौथाई संख्या है। ट्रंप ने कहा, ‘‘अब हमारे विशेषज्ञों का मानना है कि इस वैश्विक महामारी का बुरा दौर बीत चुका है और अमेरिकी हमारे देश को सुरक्षित तथा तेजी से फिर से खोलने की ओर देख रहे हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘इस परेशानी के वक्त करोड़ों मेहनती अमेरिकियों को बहुत, बहुत बड़े त्याग देने के लिए कहा गया। यह ऐसे बलिदान है जिसके बारे में किसी ने कभी सोचा भी नहीं होगा, किसी ने नहीं सोचा था कि हम कभी किसी ऐसी स्थिति के बारे में बात करेंगे।’’ कैलिफोर्निया में गवर्नर गैविन न्यूसम ने अपने राज्य को चरणबद्ध तरीके से फिर से खोलने की घोषणा की। 

इसे भी पढ़ें: भारत ने ब्रिक्स की बैठक में कहा, कोरोना से मुकाबले के लिये कारोबार को समर्थन देने की जरूरत

कैलिफोर्निया में कोरोना वायरस से 1,800 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है। स्कूल और कॉलेज जुलाई-अगस्त से खुल सकते हैं। कैलिफोर्निया और वाशिंगटन पहले दो राज्य थे जिन्होंने घर में रहने का आदेश लागू किया था। अब देश की 95 प्रतिशत से अधिक आबादी अपने घरों में सिमटी हुई है। टेक्सास के गवर्नर ग्रेग एबॉट ने भी राज्य को फिर से खोलने के पहले चरण की घोषणा की। टेनेसी ने सोमवार को रेस्तरां फिर से खोलने की मंजूरी दी और इस सप्ताह के अंत तक रिटेल आउटलेट्स भी खुल सकते हैं। पेन्सिलवेनिया ने तीन मई से राज्य को तीन चरणों में फिर से खोलने की घोषणा की। दक्षिण कैरोलिना, ओरेगोन, ओक्लाहोमा, ओहियो जैसे राज्यों ने अपनी अर्थव्यवस्थाओें को चरणबद्ध तरीके से फिर से खोलने की घोषणा की है। उटाह राज्य ने मंगलवार को पाबंदियों में छूट देने की घोषणा की और अपने निवासियों को मास्क देने की पेशकश दी। 

इसे भी पढ़ें: मूडीज ने 2020 में भारत के वृद्धि अनुमान को घटाकर 0.2 प्रतिशत किया

अमेरिका में कोरोना वायरस का केंद्र बनकर उभरे न्यूयॉर्क में गैर आवश्यक कारोबारों को 15 मई तक बंद रहने का आदेश दिया गया है। सवालों के जवाब में ट्रंप ने कहा कि अमेरिका ने दुनिया में किसी भी अन्य देश के मुकाबले अधिक जांच की है। उन्होंने कहा, ‘‘हम दुनिया में अभी तक किसी भी अन्य देश के मुकाबले अधिक जांच कर रहे हैं...इसलिए और अधिक मामले सामने आ रहे हैं।’’ उन्होंने कहा कि वह विशेषज्ञों पर भरोसा कर रहे थे लेकिन वह भी इसमें गलत साबित हुए। उन्होंने कहा, ‘‘हम विशेषज्ञों की सुन रहे थे और हम हमेशा विशेषज्ञों की सुनेंगे। लेकिन विशेषज्ञ गलत साबित हुए। कई लोग गलत साबित हुए। और कई लोगों को अंदाजा नहीं था कि यह इतना गंभीर होगा।’’ राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘मैंने विशेषज्ञों को सुना। मैंने अपना देश और अपनी सीमाएं बंद कर दी। मैंने चीन से अमेरिकी नागरिकों के अलावा अन्य के आने पर प्रतिबंध लगा दिया और हमने अपने नागरिकों की भी कड़ी जांच की।’’ ट्रंप ने कहा कि अमेरिकी अर्थव्यवस्था फिर से खुल रही है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

अंतर्राष्ट्रीय

झरोखे से...