हथियार डीलर संजय भंडारी को India प्रत्यर्पित करने का आदेश

Sanjay Bhandari
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Commons
गृह मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक, प्रत्यर्पण का यह आदेश पिछले हफ्ते दिया गया और भंडारी के पास इस महीने के अंत तक लंदन उच्च न्यायालय में अपील करने के लिए 14 दिन का समय है। भंडारी (60) के खिलाफ भारतीय अधिकारियों ने दो प्रत्यर्पण अनुरोध किए थे।

ब्रिटिश गृह मंत्री सुएला ब्रेवरमैन ने कर वंचना और धनशोधन संबंधी आरोपों का सामना करने के लिए बिचौलिए और हथियारों के सौदे में सलाहकार संजय भंडारी को भारत प्रत्यर्पित किए जाने का आदेश दिया है। गृह मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक, प्रत्यर्पण का यह आदेश पिछले हफ्ते दिया गया और भंडारी के पास इस महीने के अंत तक लंदन उच्च न्यायालय में अपील करने के लिए 14 दिन का समय है। भंडारी (60) के खिलाफ भारतीय अधिकारियों ने दो प्रत्यर्पण अनुरोध किए थे। पहला अनुरोध धनशोधन से संबंधित था जबकि दूसरा कर वंचना से संबंधित।

इससे पहले, नवंबर में ब्रिटेन की एक अदालत ने फैसला दिया था कि भंडारी को कर चोरी एवं धनशोधन के आरोपों का सामना करने के लिए भारत प्रत्यर्पित किया जा सकता है। इससे ब्रिटिश सरकार को भंडारी के प्रत्यर्पण का आदेश देने का मार्ग प्रशस्त हुआ। जिला न्यायाधीश माइकल स्नो ने पिछले साल लंदन में वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट में मामले की सुनवाई की थी और उन्होंने फैसला दिया था कि भंडारी के प्रत्यर्पण पर कोई रोक नहीं है और इस मामले को भारतीय मूल की गृह मंत्री ब्रेवरमैन के पास भेज दिया।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़