बिना पैसे 3 महीने से कर रहे हैं काम, बच्चों की स्कूल फीस के पैसे नहीं, पाकिस्तान एंबेसी ने की इमरान की इंटरनेशनल बेइज्जती

बिना पैसे 3 महीने से कर रहे हैं काम, बच्चों की स्कूल फीस के पैसे नहीं, पाकिस्तान एंबेसी ने की इमरान की इंटरनेशनल बेइज्जती

सर्बिया में पाकिस्तान हाई कमीश्नर की तरफ से जो ट्विट किया गया है बिल्कुल ही चौंकाने वाला है। पाकिस्तान हाई कमीशन की तरफ से जो ट्विट किया गया है उसका मजमून कुछ इस प्रकार से है- बिना पैसे तीन महीने से काम कर रहे हैं। फीस नहीं देने से स्कूल में बच्चों को बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है।

पाकिस्तान किस तरह से कंगाली के आलम की तरफ आगे बढ़ रहा है वो सर्बिया में मौजूद पाकिस्तान की एंबेसी के आधिकारिक ट्विटर से किए गए पोस्ट से साफ पता चलता है। इस पोस्ट ने पाकिस्तान की हकीकत से पर्दा उठा दिया है। सर्बिया में पाकिस्तान की एंबेसी का ट्विटर अकाउंट जहां से सैलरी न मिलने से नाराज कर्मचारी से सरकार की बेइज्जती करता हुआ ट्विट डाल दिया। सर्बिया में पाकिस्तान हाई कमीश्नर की तरफ से जो ट्विट किया गया है बिल्कुल ही चौंकाने वाला है। पाकिस्तान हाई कमीशन की तरफ से जो ट्विट किया गया है उसका मजमून कुछ इस प्रकार से है-  बिना पैसे तीन महीने से काम कर रहे हैं। फीस नहीं देने से स्कूल में बच्चों को बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है। 

3 महीनों से बिना सैलरी के कर रहे काम 

गौरतलब है कि  इमरान खान की तरफ से एक बयान दिया गया था कि घबराना नहीं है। उससे जुड़ा वीडियो पाक दूतावास की तरफ से शेयर किया गया है। एंबेसी के ट्विटर अकाउंट पर शेयर वीडियो में कहा गया था कि महंगाई ने पिछले सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए। आप (इमरान खान) कब तक उम्मीद करते हैं कि हम सरकारी अधिकारी चुप रहेंगे और पिछले 3 महीनों से बिना सैलरी के आपके लिए काम करते रहेंगे।

पाक की सफाई 

हालांकि पूरे मामले पर अपनी इज्जत बचाने के लिए पाकिस्तान विदेश मंत्रालय ने इसे अकाउंट हैक करके किया गया ट्विट बता रहे हैं। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने ट्वीट कर बताया है, 'सर्बिया में पाकिस्तान के दूतावास के ट्विटर, फेसबुक और इंस्टाग्राम के अकाउंट्स हैक कर लिए गए हैं। इस पर जारी किए जा रहे संदेश सर्बिया स्थित पाकिस्तानी दूतावास की ओर से ट्वीट नहीं किए गए हैं। पाकिस्तान में महंगाई अपने चरम पर है। पाकिस्तान का सूरत-ए-हाल खुद नुमाइंदे ही बयां कर रहे हैं।