ओरलांडो हवाई अड्डे पर नकली बंदूक के साथ हिरासत में लिया गया व्यक्ति

अमेरिका के ओरलांडो हवाई अड्डे पर करीब तीन घंटे की अफरा-तफरी की स्थिति के बाद उस पूर्व मरीन को हिरासत में ले लिया गया जिसने नकली बंदूक के साथ ‘खुदकुशी’ का प्रयास किया था।

ओरलांडो। अमेरिका के ओरलांडो हवाई अड्डे पर करीब तीन घंटे की अफरा-तफरी की स्थिति के बाद उस पूर्व मरीन को हिरासत में ले लिया गया जिसने नकली बंदूक के साथ ‘खुदकुशी’ का प्रयास किया था। इस पूरे प्रकरण में कोई घायल नहीं हुआ और कोई गोली नहीं चली, लेकिन इस पूरे हालात को लेकर भ्रम और अनिश्चितता पैदा हो गई क्योंकि हवाई अड्डे के एक हिस्से को खाली करा लिया गया था और सैंकड़ों अधिकारी इलाके में मौजूद थे तथा कुछ अधिकारी अपने हथियारों के साथ तैयार खड़े थे।

माइकल वायने पेटिग्रेव को जब पुलिस ने हवाई अड्डे के रेंटल कार एरिया में घेरा तो वह ‘अवसाद’ की स्थिति में था। अधिकारियों ने कहा कि माइकल ने असली बंदूक की तरह दिख रहे हथियार को अधिकारियों की तरफ और फिर खुद पर तान दिया। ओरलांडो के पुलिस प्रमुख जॉन मीना ने कहा, ‘‘हमारे वार्ताकारों ने करीब दो घंटे बातचीत करके बहुत बेहतरीन काम किया और आखिरकार उसका शांतिपूर्ण ढंग से समर्पण कराया गया।’’

इससे पहले, ग्लोरियालिज कोइयान प्लाजा नामक लड़की ने बताया कि जब वह वर्जिन अटलांटिक एयरलाइंस से काम खत्म करके लौट रही थीं तो देखा कि हर कोई छिप रहा है। वह एलीवेटर से बाहर निकलीं तो देखा कि संदिग्ध व्यक्ति रेंटल कार एरिया के निकट मौजूद है। वह चिल्ला रहा था और पुलिस वालों ने उसे घेर रखा था। प्लाजा ने कहा कि उसने न तो गोलीबारी की आवाज सुनी न तो किसी को घायल अवस्था में देखा। हवाई अड्डे पर किसी संदिग्ध के होने की जानकारी सबसे पहले स्थानीय समयानुसार शाम सात बज कर करीब 24 मिनट पर आई थी। इसके बाद अधिकारी हरकत में आए।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़