जी-20 सम्मेलन में चला मोदी का जादू, दुनिया मे बजा भारत का डंका

जी-20 सम्मेलन में चला मोदी का जादू, दुनिया मे बजा भारत का डंका

जी-20 के सत्र में बोलते हुए पीएम मोदी ने कोरोना महामारी के खिलाफ भारत की लड़ाई पर भी चर्चा की। पीएम मोदी ने महामारी से जंग के लिए वन अर्थ-वन हेल्थ का मंत्र भी दिया। पीएम मोदी ने G-20 देशों को भारत के आर्थिक सुधार और सप्लाई चेन डायवर्सिफिकेशन में अपना भागीदार बनाने के लिए आमंत्रित किया।उन्होंने इस तथ्य को भी सामने रखा कि महामारी की चुनौतियों के बावजूद, भारत विश्वसनीय सप्लाई चेन के संदर्भ में एक विश्वसनीय भागीदार बना रहा।

जी-20 समिट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  एक अलग ही अंदाज में नजर आए। सम्मेलन में दुनिया भर से कई देशों के राष्ट्राध्यक्ष और प्रतिनिधि आये हैं। दुनिया भर के नेता पीएम मोदी से मिलना चाहता है। सम्मेलन में दुनिया के ज्यादतर ताकतवर देशों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के किस तरह के रिश्ते हैं इसकी बानगी भी सम्मेलन में दिखी। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने  प्रधानमंत्री के कंधे पर मित्रवत हाथ रखा वहीं फ्रांस के प्रेसिडेंट इमैनुएल मैक्रों पीएम मोदी के गले मीले। रिश्तों की गर्मजोशी पीएम नरेंद्र मोदी के ट्वीट में भी दिखी पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया, "रोम में अपने दोस्त, राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों से मिलकर खुशी हुई। हमारी बातचीत विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने और दोनों देशों के बीच संबंधों को बढ़ाने के इर्द-गिर्द रही।" 

पोप फ्रांसिस ने मोदी के निमंत्रण किया स्वीकार

प्रधानमंत्री मोदी वैटिकन में पोप फ्रांसिस से भी मिले और उनको भारत आने का निमंत्रण भी दिया।  पीएम मोदी के न्योते को पोप ने स्वीकार कर लिया है। पोप जल्द ही भारत आएंगे। 

मोदी ने कोरोना के खिलाफ जंग में दिया वन अर्थ-वन हेल्थ  का मंत्र

जी-20 के सत्र में बोलते  हुए पीएम मोदी ने कोरोना महामारी के खिलाफ भारत की लड़ाई पर भी चर्चा की। पीएम मोदी ने महामारी से जंग के लिए वन अर्थ-वन हेल्थ  का मंत्र भी दिया। पीएम मोदी ने G-20 देशों को भारत के आर्थिक सुधार और सप्लाई चेन डायवर्सिफिकेशन में अपना भागीदार बनाने के लिए आमंत्रित किया।उन्होंने इस तथ्य को भी सामने रखा कि महामारी की चुनौतियों के बावजूद, भारत विश्वसनीय सप्लाई चेन के संदर्भ में एक विश्वसनीय भागीदार बना रहा।