जापान में नए ऑस्ट्रेलियाई PM से मिलेंगे प्रधानमंत्री मोदी? वोटिंग के बाद अब काउंटिंग, स्कॉट मॉरिसन ने मानी हार

Scott Morrison
Creative Common
अभिनय आकाश । May 21, 2022 6:51PM
ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने अपनी रूढ़िवादी सरकार के लिए "कठिन रात" के बाद शनिवार को राष्ट्रीय चुनावों में हार स्वीकार की। ऑस्ट्रेलियाई मीडिया द एज के अनुसार मॉरिसन ने कहा कि आज रात मैंने विपक्ष के नेता और आने वाले प्रधान मंत्री, एंथनी अल्बनीज़ से बात की है, और मैंने उन्हें उनकी चुनावी जीत पर बधाई दी है।

ऑस्ट्रेलिया में आम चुनाव के लिए शनिवार को मतदान संपन्न हो गया और मतगणना शुरू हो गयी है, जिसमें कंजर्वेटिव और लेबर पार्टी के बीच कांटे की टक्कर है। लगभग आधे मतों की गिनती हो चुकी है और मीडिया रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है कि ऑस्ट्रेलिया के लोगों ने शनिवार को प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन की रूढ़िवादी सरकार को हटाने के लिए मतदान किया। एंथनी अल्बनीज की सेंटर लेफ्ट लेबर पार्टी को संसद में सबसे बड़ी पार्टी होने का अनुमान लगाया जा रहा है। एबीसी न्यूज के अनुसार लेबर नेता एंथनी अल्बनीज सरकार बनाने की स्थिति में हैं। हालांकि यह अभी तक स्पष्ट नहीं है कि उन्हें बहुमत हासिल करने के लिए सहयोगियों को खोजने की आवश्यकता होगी या नहीं।

इसे भी पढ़ें: KCR की बेटी ने प्रधानमंत्री पर साधा निशाना, बोलीं- मोदी है तो मुश्किल है, GDP पाताल में है महंगाई आसमान में...

मॉरिसन ने मानी हार

ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने अपनी रूढ़िवादी सरकार के लिए "कठिन रात" के बाद शनिवार को राष्ट्रीय चुनावों में हार स्वीकार की। ऑस्ट्रेलियाई मीडिया द एज के अनुसार मॉरिसन ने कहा कि आज रात मैंने विपक्ष के नेता और आने वाले प्रधान मंत्री, एंथनी अल्बनीज़ से बात की है, और मैंने उन्हें उनकी चुनावी जीत पर बधाई दी है। उन्होंने एलएनपी समर्थकों से कहा कि वे अपना सिर ऊंचा रख सकते हैं क्योंकि वे एक मजबूत सरकार के साथ खड़े थे। वह तीन साल में गठबंधन सरकार की वापसी की उम्मीद कर रहे थे।

इसे भी पढ़ें: भविष्य की अर्थव्यवस्था की जरूरत कृषि प्रौद्योगिकी स्टार्टअप

इससे पहले अल्बानीस ने सिडनी के मैरिकविले टाउन हॉल में मतदान किया। उन्होंने कहा, ‘‘मैं बहुत सकारात्मक हूं और आज रात अच्छे नतीजे आने की उम्मीद है।’’ वहीं, मॉरिसन ने अपनी पत्नी जेनी के साथ दक्षिणी सिडनी में लिली पिली पब्लिक स्कूल में मतदान किया। बाद में, उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई समुद्री क्षेत्र में घुसने का प्रयास कर रही शरणार्थियों से भरी एक नौका को रोके जाने की घटना का हवाला देते हुए कहा कि इसलिए मतदाताओं को उनकी सरकार को पुन: निर्वाचित करना चाहिए। बता दें कि ऑस्ट्रेलिया के 1.7 करोड़ मतदाताओं में से 48 प्रतिशत से अधिक ने पहले ही मतदान कर दिया या डाक मतपत्रों के लिए आवेदन किया है। सरकार ने हाल में कोविड-19 से पीड़ित रहे लोगों के फोन पर मतदान करने के लिए शुक्रवार को नियमों में बदलाव किया था। ऑस्ट्रेलिया के निर्वाचन आयुक्त टॉम रोजर्स ने कहा कि योजना के अनुसार 7,000 से अधिक मतदान केंद्र बनाए गए और 15 प्रतिशत मतदान कर्मी कोरोना वायरस और फ्लू के कारण बीमार पड़ गए। 

अन्य न्यूज़