कोलंबिया में पुलिस अधिकारी ने काले किशोर को मारी गोली लेकिन नहीं हुए आरोप दाखिल

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 25, 2020   19:52
कोलंबिया में पुलिस अधिकारी ने काले किशोर को मारी गोली लेकिन नहीं हुए आरोप दाखिल

दक्षिण कैरोलाइना के एक अभियोजक ने काले किशोर को गोली मारने वाले अधिकारी पर आरोप दाखिल नहीं करने का फैसला लिया है। गौरतलब है कि आठ अप्रैल की यह घटना मिनियापोलिस पुलिसके एक अधिकारी द्वारा काले व्यक्ति जॉर्ज फ्लॉयड की हत्या के बाद से कोलंबिया में नस्ली अन्याय पर विरोध का केन्द्र बन गई थी।

कोलंबिया। दक्षिण कैरोलाइना के एक अभियोजक ने कहा कि वह काले किशोर की गोली मारकर हत्या करने वाले पुलिस अधिकारी के खिलाफ आरोप दर्ज नहीं करेंगे। फीफ्थ सर्किट सॉलिसिटर बायरन जिप्सन ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि जोश रूफीन (17) पीछा किए जाने पर भागा था और फिर एक जगह रूक कर कोलंबिया के पुलिस अधिकारी विन डेविस पर बंदूक तान दी थी। इससे वह डेविस और अन्य लोगों के लिए खतरा बन गया था। जिप्सन ने कहा कि डेविस के पास किशोर का पीछा करने का कारण था, क्योंकि वह कोविड-19 शटडाउन के आदेश के दौरान बाहर था और इलाके के एक नेता ने औसत अपराध दर से अधिक वाले इस क्षेत्र में संदिग्ध गतिविधि की सूचना दी थी।

इसे भी पढ़ें: प्रतिमाओं को हटाने के समर्थकों से बोले ट्रंप, इतिहास की गलतियों से नहीं सीखा तो दोहरायी जाएंगी गलतियां

रूफीन के परिवार के वकील टॉड रदरफोर्ड का कहना है कि वह चाहेंगे कि अधिकारी पर आरोप तय किए जाएं। उन्होंने कैमरे के फूटेज देखे हैं और उन्हें उस वीडियो में कहीं भी यह नहीं लगा कि किशोर ने अधिकारी पर बंदूक तानी थी। उन्होंने कहा, ‘‘ हमने बस यह देखा कि किशोर पुलिस से दूर भाग रहा था। हमें जोश को गिरफ्तार करने, उसे पकड़ने का कोई कारण नजर नहीं आता।’’ गौरतलब है कि आठ अप्रैल की यह घटना मिनियापोलिस पुलिसके एक अधिकारी द्वारा काले व्यक्ति जॉर्ज फ्लॉयड की हत्या के बाद से कोलंबिया में नस्ली अन्याय पर विरोध का केन्द्र बन गई थी। जिप्सन खुद भी एक काले व्यक्ति हैं और उन्होंने संवाददाता सम्मेलन की शुरुआत श्वेत पुलिस अधिकारियों और समाज द्वारा आम तौर पर काले व्यक्तियों पर किए जा रहे अन्यायों पर बात करते हुए ही की थी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।