गर्भपात के अधिकारों को नकार रहा अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट, प्रदर्शनकारियों ने निकाली रैली

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 8, 2022   14:21
गर्भपात के अधिकारों को नकार रहा अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट, प्रदर्शनकारियों ने निकाली रैली
UNSPLASH

गर्भपात के अधिकार की मांग कर रहे प्रदर्शनकारियों ने अमेरिका के कई शहरों में रैली निकाली है।यह प्रदर्शन ऐसे समय में हुआ है, जब अमेरिका के उच्चतम न्यायालय की राय जनता के सामने लीक हो गई है, जिसमें सुझाव दिया गया है कि अदालत 1973 के ‘रो वी वेड’ मामले को पलटने के लिए तैयार है।

शिकागो (अमेरिका)। गर्भपात के अधिकार की मांग कर रहे प्रदर्शनकारियों ने शनिवार को अमेरिका के कई शहरों में रैली निकाली। गर्भपात देशभर में महिलाओं के लिए एक कानूनी विकल्प बना रहे, यह सुनिश्चत करने के लिए प्रदर्शनकारियों ने इसके समर्थन में लड़ाई जारी रखने का संकल्प जताया। गर्भपात के अधिकार के समर्थन में सैकड़ों लोग शिकागो, अटलांटा, ह्यूस्टन और अन्य शहरों में एकत्र हुए। यह प्रदर्शन ऐसे समय में हुआ है, जब अमेरिका के उच्चतम न्यायालय की राय जनता के सामने लीक हो गई है, जिसमें सुझाव दिया गया है कि अदालत 1973 के ‘रो वी वेड’ मामले को पलटने के लिए तैयार है, जिसने देशभर में गर्भपात को वैध कर दिया था।

इसे भी पढ़ें: अमेरिका ने रूस के युद्धक पोत के डूबने में अपनी संलिप्तता से किनारा किया

कोर्ट्स मैटर इलिनोइस के अध्यक्ष कैरोल लेविन ने शिकागो में रैली के दौरान डब्ल्यूएमएक्यू-टीवी से कहा, ‘‘यह सोचने वाली बात है कि महिलाएं क्या कर सकती हैं और क्या नहीं, इसे लोग अब भी नियंत्रित करना चाहते हैं।’’ इलिनोइस के गवर्नर जेबी प्रित्जकर ने रैली में हिस्सा लिया और प्रांत में प्रजनन अधिकारों की रक्षा करने का संकल्प जताया। गर्भपात का विरोध करने वाले प्रदर्शनकारियों ने भी सड़क पर प्रदर्शन किया। अटलांटा में प्रदर्शनकारियों ने गर्भपात के अधिकारों के पक्ष में हस्ताक्षर अभियान चलाया और शहर के मध्य से होते हुए जुलूस निकाला।

इसे भी पढ़ें: अमेरिका के विदेश मंत्री ने बिलावल भुट्टो जरदारी से की फोन पर बात, नयी सरकार बनने के बाद पहली उच्च स्तरीय वार्ता

प्रदर्शनकारी नारे लगा रहे थे, ‘‘न गिरजाघर और न ही राज्य, सिर्फ महिलाएं ही अपने भाग्य का फैसला करेंगी।’’ ह्यूस्टन में हजारों लोगों ने प्रजनन अधिकार रैली में हिस्सा लिया, जिसका शीर्षक ‘डेमोक्रेट बेटो ओ रुर्के’ था। शीर्षक टेक्सास के गवर्नर के संदर्भ में था। टेक्सास अमेरिका के उन प्रांतों में शामिल है, जो न्यायालय द्वारा गर्भपात के राष्ट्रव्यापी अधिकार को उलटने की स्थिति में खुद गर्भपात पर प्रतिबंध लगा देगा और बलात्कार या अनाचार के लिए कोई अपवाद नहीं छोड़ेगा। उच्चतम न्यायालय की राय का मसौदा कैसे लीक हुआ, यह पता लगाने के लिए जांच जारी है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

अंतर्राष्ट्रीय

झरोखे से...