IS को समर्थन देने के मामले में महिला को हुई पांच साल 10 महीने कारावास की सजा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 30, 2020   10:01
IS को समर्थन देने के मामले में महिला को हुई पांच साल 10 महीने कारावास की सजा

पुंटा गोर्डा की एलिसन मैरी शेपर्ड (35) को आईएस को सहायता मुहैया कराने की कोशिश करने के मामले में फोर्ट मायर्स संघीय अदालत में पिछले साल दोषी ठहराया गया था। अदालती दस्तावेजों के अनुसार एलिसन ने 2016 में फेसबुक और सोशल मीडिया माध्यमों की मदद से सलाफी जिहादी विचारधारा औरआईएस को समर्थन देने वाले लोगों से जुड़ना शुरू किया।

फोर्ट मायर्स (अमेरिका)। फ्लोरिडा की एक महिला को पश्चिम एशिया में इस्लामिक स्टेट आतंकवादी समूह की मदद के लिए मोबाइल फोन भेजने की कोशिश करने के मामले में पांच साल 10 महीने कारावास की सजा सुनाई गई है। पुंटा गोर्डा की एलिसन मैरी शेपर्ड (35) को आईएस को सहायता मुहैया कराने की कोशिश करने के मामले में फोर्ट मायर्स संघीय अदालत में पिछले साल दोषी ठहराया गया था। अदालती दस्तावेजों के अनुसार एलिसन ने 2016 में फेसबुक और अन्य सोशल मीडिया माध्यमों की मदद से सलाफी जिहादी विचारधारा और आईएस को समर्थन देने वाले लोगों से जुड़ना शुरू किया। उसने उन लोगों से सोशल मीडिया पर कूटमें भी बातचीत की, जिन्हें वह आईएस का समर्थक मानती थी।

इसे भी पढ़ें: मिनेसोटा के गवर्नर ने CNN पत्रकार की गिरफ्तारी के लिए मांगी माफी

इनमें से एक व्यक्ति को बाद में एफबीआई ने पकड़ लिया और उसने संघीय कानून प्रवर्तन से सहयोग करना शुरू किया। एलिसन ने दो खुफिया एजेंटों को आईएस समर्थक समझकर उनसे भी बातचीत शुरू की। अभियोजकों ने बताया कि उसने जून 2017 में एजेंटों को बताया कि वह आईएस के लिए मोबाइल फोन खरीदकर भिजवा सकती है। उसने अगले महीने 10 मोबाइल फोन खरीदे और यह सोचकर उन्हें एक एजेंट को भेजा कि वह पश्चिम एशिया में इसे भेज देगा और उनका इस्तेमाल प्रेशर कुकर बम बनाने में किया जाएगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

अंतर्राष्ट्रीय

झरोखे से...