रूस ने सीरिया के लिए सीमा पार से छह महीने तक सहायता पहुंचाने का प्रस्ताव रखा

Russia
Google Free License
संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद सीरिया के विद्रोहियों के कब्जे वाले उत्तर-पश्चिमी क्षेत्र में तुर्की से होते हुए मानवीय सहायता पहुंचाने पर बृहस्पतिवार को मतदान के लिए तैयार है। इस बीच रूस ऐसी मानवीय सहायता को जारी रखने के लिए तैयार हो गया है लेकिन केवल छह महीनों के लिए।

संयुक्त राष्ट्र। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद सीरिया के विद्रोहियों के कब्जे वाले उत्तर-पश्चिमी क्षेत्र में तुर्की से होते हुए मानवीय सहायता पहुंचाने पर बृहस्पतिवार को मतदान के लिए तैयार है। इस बीच रूस ऐसी मानवीय सहायता को जारी रखने के लिए तैयार हो गया है लेकिन केवल छह महीनों के लिए। हालांकि, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के कई सदस्य, महासचिव एंतोनियो गुतारेस और 30 से अधिक गैरसरकारी समूह चाहते हैं कि यह अवधि बढ़ाकर एक साल की जाए। रूस ने आयरलैंड और नॉर्वे द्वारा पेश प्रस्ताव के मसौदे में इन संशोधनों की पेशकश की है।

इसे भी पढ़ें: ओमिक्रॉन के नए वेरिएंट ने चीन में फिर मचाया हड़कंप, लाखों लोगों को लॉकडाउन के तरत रखा गया

परिषद के राजनयिकों ने कहा कि इस पर बुधवार को देर रात तक विचार-विमर्श चलता रहा कि क्या कोई समझौता किया जा सकता है। सुरक्षा परिषद में इस पर बृहस्पतिवार को मतदान होना है। अगर कोई समझौता नहीं होता तो सीमा पार से 12 महीनों के लिए मानवीय सहायता पहुंचाने के आयरलैंड और नॉर्वे के प्रस्ताव के मसौदे पर सबसे पहले मतदान होगा। अगर उसे नौ मत नहीं मिले या रूस ने इस पर वीटो कर दिया तो रूस के छह महीने के लिए सामान की आपूर्ति वाले प्रस्ताव पर मतदान कराया जाएगा।

इसे भी पढ़ें: दक्षिण कोरिया ने 20 गुब्बारों के जरिए 2,000 मॉस्क और विटामिन सी और बुखार की दवाइयां उत्तर कोरिया भेजा

चीन और रूस ने इदलिब में तुर्की से दो सीमा चौकियों के जरिए मानवीय सहायता पहुंचाने के संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव पर वीटो कर दिया था। इसके कई दिनों बाद परिषद ने इनमें से एक सीमा चौकी बाब अल-हावा से मदद पहुंचाने को मंजूरी दी थी। उत्तर-पश्चिमी इदलिब सीरिया में विद्रोहियों के कब्जे वाला अंतिम गढ़ है और अल-कायदा से जुड़े आतंकी संगठन हयात तहरीर अल-शम का इस क्षेत्र में कब्जा है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़