ईरान की राजधानी को दहला देने वाला विस्फोट, सेटेलाइट तस्वीर से पता चली लोकेशन

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 28, 2020   16:32
ईरान की राजधानी को दहला देने वाला विस्फोट, सेटेलाइट तस्वीर से पता चली लोकेशन

सेटेलाइट तस्वीरों से पता चला है कि ईरान की राजधानी को दहला देने वाला विस्फोट उसके पूर्वी पर्वतीय क्षेत्र में हुआ, जिसके बारे में विशेषज्ञों का मानना है कि वहां एक भूमिगत सुरंग प्रणाली और मिसाइल उत्पादन स्थल हैं।

दुबई। सेटेलाइट तस्वीरों से पता चला है कि ईरान की राजधानी को दहला देने वाला विस्फोट उसके पूर्वी पर्वतीय क्षेत्र में हुआ, जिसके बारे में विशेषज्ञों का मानना है कि वहां एक भूमिगत सुरंग प्रणाली और मिसाइल उत्पादन स्थल हैं। सेटेलाइट तस्वीरें शनिवार को सामने आई थीं। अभी तक यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि शुक्रवार को तेहरान में किस चीज में विस्फोट हुआ और विस्फोट किस कारण से हुआ। विस्फोट के बाद आसमान में आग की लपटें दिखायी दीं। हालांकि, विस्फोट के बाद ईरानी सरकार की असामान्य प्रतिक्रिया उस संवेदनशील क्षेत्र की ओर इशारा करती है, जिसके बारे में अंतरराष्ट्रीय निगरानीकर्ता मानते हैं कि इस्लामिक गणराज्य ने उस स्थान के निकट दो दशक पहले परमाणु हथियार के लिए परीक्षण किया था।

इसे भी पढ़ें: सेटेलाइट तस्वीरों से किया गया दावा, संदिग्ध मिसाइल स्थल से हुआ था ईरान में भयावह धमाका

अलबोर्ज पहाड़ी क्षेत्र में शुक्रवार तड़के हुए धमाके के बाद मकान हिल गए, खिड़कियों में कंपन देखा गया और आसमान में उजाला हो गया। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता दावूद अब्दी ने गैस लीक को विस्फोट का कारण करार दिया और कहा कि विस्फोट में किसी की मौत नहीं हुई। अब्दी ने उस स्थान को ‘‘सार्वजनिक क्षेत्र’’ बताया , जिसके बाद यह प्रश्न खड़ा हो गया कि असैन्य दमकलों के बजाए सैन्य अधिकारियों ने स्थिति क्यों संभाली।’’

इसे भी पढ़ें: बायोकॉन प्रमुख ने जताई नाराजगी, कहा- क्या बिना लक्षण कोविड-19 की जांच कराना अपराध है?

सरकारी टेलीविजन में इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई। तेहरान के पूर्व में लगभग 20 किलोमीटर क्षेत्र की सेटेलाइट तस्वीरों में सैकडों मीटर जली हुई ‘‘स्क्रबलैंड’’ दिखाई दे रही है जबकि घटना से कुछ हफ्तों पहले ली गई तस्वीरों में ऐसा कुछ दिखाई नहीं दे रहा। इसके करीब स्थित इमारत सरकारी टेलीविजन की फुटेज में दिखाई दे रहे प्रतिष्ठान से मिलती जुलती है। कैलिफोर्निया के मोन्टेरी में मिडलबरी इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज में जेम्स मार्टिन सेंटर फॉर नॉनप्रोलिफिरेशन स्टडीज में शोधकर्ता फैबियन हिंज़ ने कहा कि गैस भंडारण क्षेत्र ईरान के खोजिर मिसाइल प्रतिष्ठान के नजदीक है। ऐसा प्रतीत होता है कि विस्फोट शाहिद बकेरी औद्योगिक समूह के एक प्रतिष्ठान में हुआ ,जो ठोस-प्रणोदक रॉकेट बनाता है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।