ट्रंप ने की शिंजो आबे की तारीफ, कहा- जापान के इतिहास में सबसे 'महानतम' प्रधानमंत्री

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अगस्त 31, 2020   13:04
ट्रंप ने की शिंजो आबे की तारीफ, कहा- जापान के इतिहास में सबसे 'महानतम' प्रधानमंत्री

राष्ट्रपति ट्रंप ने रविवार रात आबे से फोन पर बात की और इस दौरान दोनों नेताओं ने लंबी बातचीत कर पिछले चार वर्षों के कार्यों पर चर्चा की। व्हाइट हाउस ने फोन पर हुई बातचीत की जानकारी देते हुए कहा,“दोनों नेताओं ने माना कि उनके संबंध असाधारण हैं,राष्ट्रपति ने प्रधानमंत्री आबे को जापान के इतिहास का महानतम प्रधानमंत्री बताया।”

वाशिंगटन, 31 अगस्त अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शिंजो आबे को जापान के इतिहास का “महानतम” प्रधानमंत्री बताकर उनकी प्रशंसा की। दोनों नेताओं के बीच टेलीफोन पर हुई वार्ता के दौरान ट्रंप ने यह बात कही। आबे (65) ने शुक्रवार को घोषणा की थी कि वह खराब सेहत की वजह से पद छोड़ने का मन बना रहे हैं। वह लंबे वक्त से अल्सरेटिव कोलाइटिस (आंत में सूजन से जुड़ी बीमारी) से जूझ रहे हैं। वह जापान में सबसे लंबे वक्त तक सेवा देने वाले प्रधानमंत्री हैं। राष्ट्रपति ट्रंप ने रविवार रात आबे से फोन पर बात की और इस दौरान दोनों नेताओं ने लंबी बातचीत कर पिछले चार वर्षों के कार्यों पर चर्चा की। व्हाइट हाउस ने फोन पर हुई बातचीत की जानकारी देते हुए कहा, “दोनों नेताओं ने माना कि उनके संबंध असाधारण हैं, राष्ट्रपति ने प्रधानमंत्री आबे को जापान के इतिहास का महानतम प्रधानमंत्री बताया।”

इसे भी पढ़ें: अमेरिका के केनोशा में जैकब ब्लेक को गोली मारे जाने के विरोध में प्रदर्शन और भी हुआ हिंसात्मक

आबे के इस्तीफे की घोषणा के बाद दोनों नेताओं के बीच फोन पर हुई यह पहली बातचीत थी। व्हाइट हाउस ने कहा, “राष्ट्रपति ने कहा कि प्रधानमंत्री आबे ने शानदार काम किया है और कहा कि अमेरिका और जापान के बीच रिश्ते आज पहले से कहीं बेहतर हैं।” इसने कहा, “भले ही प्रधानमंत्री आबे जल्द ही अपना पद छोड़ने वाले हैं लेकिन राष्ट्रपति का मानना है कि वह निश्चित ही जापान के भविष्य में बड़ी भूमिका निभाते रहेंगे।” व्हाइट हाउस ने साथ ही बताया कि दोनों नेताओं ने उनके बेहतरीन रिश्तों को आने वाले वर्षों में भी जारी रखने की इच्छा जताई। आबे के तब तक पद पर बने रहने की उम्मीद है जबतक कि पार्टी का नया नेता चुन नहीं लिया जाता और संसद द्वारा औपराचिक रूप से उसके निर्वाचन को मंजूरी नहीं मिल जाती। उनका कार्यकाल सितंबर 2021 में समाप्त होना है। विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने शनिवार को कहा था कि उनका देश जापान-अमेरिका के संबंधों को मजबूत बनाने में आबे के योगदान की बहुत कद्र करता है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।