सिंगापुर सरकार ने प्रवासी कामगारों के बारे में फर्जी खबरें फैलाने को लेकर चेतावनी दी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 29, 2020   20:19
सिंगापुर सरकार ने प्रवासी कामगारों के बारे में फर्जी खबरें फैलाने को लेकर चेतावनी दी

समाचार चैनल न्यूज एशिया की बुधवार की रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय मूल के मंत्री की चेतावनी तब आई है जब कोविड-19 के प्रसार पर अंकुश लगाने के लिए सैकड़ों विदेशी कामगारों को उनके तंग शयनागार छोड़ने से रोक दिया गया है।

(गुरदीप सिंह) सिंगापुर। सिंगापुर सरकार ने प्रवासी कामगारों से जुड़ी फर्जी खबरें और वीडियो फैलाने को लेकर आज चेतावनी देते हुए कहा है कि इससे शयनागारों (डॉरमिट्री) में कानून-व्यवस्था संबंधी दिक्कतें पैदा हो सकती हैं। गौरतलब है कि इन शयनागारों में रहने वाले भारतीय सहित तमाम विदेशी कामगारों में बड़ी संख्या में लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। कानून एवं गृह मामलों के मंत्री के. षण्मुगम ने चेतावनी दी है कि ऐसे वीडियो से कानून-व्यवस्था संबंधी गंभीर दिक्कतें पैदा हो सकती हैं।

इसे भी पढ़ें: भारत-सिंगापुर की रणनीतिक साझेदारी कोरोना से उबरने के बाद समृद्धि में योगदान दे सकती है: मोदी

उन्होंने कहा कि ऐसे वीडियो फैलाने वालों पर प्रशासन नजर रखे हुए है। जानबूझकर फर्जी वीडियो फैलाने वालों को चेतावनी देते हुए उन्होंने कहा कि ऐसा करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। समाचार चैनल न्यूज एशिया की बुधवार की रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय मूल के मंत्री की चेतावनी तब आई है जब कोविड-19 के प्रसार पर अंकुश लगाने के लिए सैकड़ों विदेशी कामगारों को उनके तंग शयनागार छोड़ने से रोक दिया गया है, क्योंकि सिंगापुर में रोज जो नए मामले आ रहे हैं, उसमें से ज्यादातर इन विदेशी कामगारों के ही हैं। खबरों के मुताबिक, इन शयनागारों में रहने वाले 3,23,000 प्रवासी कामगारों में अब तक कुल 12,183 लोग संक्रमित पाए गए हैं।

इसे भी पढ़ें: PM मोदी ने लॉन्च की स्वामित्व योजना, कहा- कोरोना संकट से मिला आत्मनिर्भर बनने का सबक

इस बीच, सिंगापुर में बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 690 नये मामले सामने आये। इसके साथ ही यहां कोविड-19 मरीजों की कुल संख्या बढ़ कर 15,641 पहुंच गई, जिनमें ज्यादातर विदेशी कामगार हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी। मंत्रालय ने बताया कि 690 मामलों में सिंगापुर के छह नागरिक हैं या स्थायी निवासी हैं जबकि शेष लोग वर्क परमिट वाले विदेशी नागरिक हैं। देश में कोरोना वायरस संक्रमण से अब तक 14 लोगों की मौत हो चुकी है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।