उत्तर कोरिया में कोरोना वायरस के पहले मामले की पुष्टि के बाद बुखार से पीड़ित छह लोगों की मौत

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 13, 2022   11:22
उत्तर कोरिया में कोरोना वायरस के पहले मामले की पुष्टि के बाद बुखार से पीड़ित छह लोगों की मौत

उत्तर कोरिया ने शुक्रवार को बताया कि देश में बुखार से पीड़ित छह लोगों की मौत हुई है,जिनमें से एक व्यक्ति के कोरेाना वायरस के ‘ओमीक्रोन’ स्वरूप से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी। देश में हाल में 3.5 लाख लोग बुखार से पीड़ित पाए गए हैं।

सियोल। उत्तर कोरिया ने शुक्रवार को बताया कि देश में बुखार से पीड़ित छह लोगों की मौत हुई है,जिनमें से एक व्यक्ति के कोरेाना वायरस के ‘ओमीक्रोन’ स्वरूप से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी। देश में हाल में 3.5 लाख लोग बुखार से पीड़ित पाए गए हैं। उत्तर कोरिया ने देश में कोविड-19 वैश्विक महामारी के पहले मामले की पुष्टि करने के एक दिन बाद यह जानकारी दी है। कमजोर स्वास्थ्य प्रणाली वाले देश में संक्रमण के प्रकोप के सटीक आंकड़ों की जानकारी अभी तक नहीं मिल पाई है। उत्तर कोरिया में अधिकतर आबादी को कोविड-19 रोधी टीके नहीं लगे हैं और कुपोषण की समस्या भी चरम पर है।

इसे भी पढ़ें: टाटा मोटर्स के शेयर में उछाल, शुरुआती कारोबार में आठ फीसदी से अधिक चढ़ा

ऐसा कहा जा रहा है कि उत्तर कोरिया में कोविड-19 संबंधी जांच करने की उचित व्यवस्था नहीं है और उसके पास अन्य चिकित्सकीय उपकरणों की भी कमी है। उत्तर कोरिया की आधिकारिक ‘कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी’ (केसीएनए) के अनुसार, अप्रैल के अंत से करीब 3.5 लाख लोग बुखार से पीड़ित हुए, जिनमें से 1,62,200 लोग ठीक हो चुके हैं। केवल बृहस्पतिवार को ही 18,000 लोग बुखार से पीड़ित पाए गए थे। वहीं, 1,87,800 लोगों को इलाज के लिए पृथक किया गया है।

इसे भी पढ़ें: Delhi Heats Wave | दिल्ली में 44 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है अधिकतम तापमान

‘केसीएनए’ ने बताया कि जिन छह लोगों की मौत हुई है, उनमें से एक व्यक्ति के कोरेाना वायरस के ‘ओमीक्रोन’ स्वरूप से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी। देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की सटीक संख्या अभी स्पष्ट नहीं है। उत्तर कोरिया ने कोविड-19 वैश्विक महामारी फैलने के दो साल से अधिक समय बाद बृहस्पतिवार को संक्रमण के पहले मामले की पुष्टि की थी और उसके प्रसार को रोकने के लिए राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन की घोषणा की थी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।