10 बजे या उससे पहले सोने वाले व्यक्तियों में बढ़ रहा दिल के दौरे का खतरा! पढ़े ये रिपोर्ट

Sleeping after midnight
निधि अविनाश । Feb 19, 2021 6:16PM
इस रिसर्च का हिस्सा रहे सीनीयर डायबेटोलॉजिस्ट डॉक्टर वी मोहन ने बयान में कहा कि, हम मानते है कि एक स्वस्थ व्यक्ति को 6 से 8 घंटे सोना काफी महत्वपूर्ण होता है लेकिन इस रिसर्च से पता चलता है कि सही समय पर सोना एक स्वस्थ व्यक्ति के लिए कितना जरूरी है।

अगर आप 10 बजे से पहले सोते है तो यह खबर आपके लिए ही है। अगर आप यह सोच रहे है कि जल्दी सोने से आपका स्वास्थ्य सही रहेगा तो आप बिल्कुल गलत है, जी हां एक नए अध्ययन के अनुसार, जल्दी सोने यानि की 10 बजे या उससे पहले सोने वाले व्यक्तियों में दिल के दौरे, स्ट्रोक और मृत्यु की घटनाओं में लगभग 9 प्रतिशत की वृद्धि हो सकती है। वहीं जो लोग देर से यानि की 10 बजे के बाद और आधी रात या बाद में सोते है, उनमें यह जोखिम 10 फीसदी तक बढ़ सकता है। इस महीने की शुरुआत में मेडिकल जर्नल स्लीप मेडिसिन में प्रकाशित, अध्ययन में उल्लेख किया गया है कि कैसे जल्दी या देर से सोने से व्यक्ति में  हृदय रोगों का जोखिम बढ़ सकता है। बता दें कि यह अध्ययन 21 देशों में 1,12,198 प्रतिभागियों की नींद के आदतों पर की गई थी।

इसे भी पढ़ें: अमेरिका के टॉप थिंक टैंक ने कहा- भारत के विकास में मदद करना अमेरिका के हित में है

इस अध्ययन को दो स्लीपिंग में डिवाइड किया गया था जिसमें राज 10 बजे या पहले सोने वाले लोगों को "पहले" स्लीपर के पार्ट में ऐड किया गया जबकि जो आधी रात या बाद में सोते है उनको 'बाद" स्लीपर में ऐड किया गया। वैज्ञानिकों ने इस अध्ययन में "यू-आकार" ग्राफ  पाया जो कि  स्ट्रोक, दिल और मृत्यु की संभावना को काफी बढ़ाता है। अध्ययन में 9.2 साल के दौरान कुल 5,633 मौतें और 5,346 प्रमुख हृदय संबंधी घटनाओं को दर्ज किया गया।

इसे भी पढ़ें: जानें कौन हैं कमला हैरिस की भांजी मीना हैरिस? क्यों लगातार खबरों में बनी हुई हैं?

बता दें कि इस रिसर्च का हिस्सा रहे  सीनीयर डायबेटोलॉजिस्ट डॉक्टर वी मोहन ने बयान में कहा कि, हम मानते है कि एक स्वस्थ व्यक्ति को  6 से 8 घंटे सोना काफी महत्वपूर्ण होता है लेकिन इस रिसर्च से पता चलता है कि सही समय पर सोना एक स्वस्थ व्यक्ति के लिए कितना जरूरी है। रिसर्च के मुताबिक, रातो को 10 बजे से पहले सोना और रात को 10 बजे के बाद सोना दोनों ही एक स्वस्थय व्यक्ति के लिए काफी दिक्कत पैदा कर सकता है इसलिए समय पर सोना काफी जरूरी है। डॉक्टर कहते है कि अगर सोने का समय रात 10 बजे से मध्य रात का हो तो घटनाएं कम होगी। हार्ट अटैक की घटनाएं जब ज्यादा बढ़ती है जब सोने का समय या तो बहुत जल्दी हो या बहुत बाद। जानकारी के मुताबिक, रात के 3 बजे के बाद या शाम 7 बजे के पहले सोने वाले व्य्क्ति को  स्वास्थ्य संबंधी तकलीफे अधिक होती हैं। 

अन्य न्यूज़