सूड़ान के अधिकारियों ने कहा-सेना ने राष्ट्रपति को इस्तीफा देने को मजबूर किया

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 11 2019 5:51PM
सूड़ान के अधिकारियों ने कहा-सेना ने राष्ट्रपति को इस्तीफा देने को मजबूर किया
Image Source: Google

सरकार और सेना में वरिष्ठ पदों पर आसीन दो अधिकारियों ने नाम न उजागर करने की गुजारिश पर एसोसिएटिड प्रेस को बताया कि सशस्त्र बलों ने अल बशीर को इस्तीफा देने को मजबूर कर दिया है

काहिरा। सूडान के दो वरिष्ठ अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को बताया कि सेना ने निरंकुश राष्ट्रपति उमर अल बशीर को 30 सालों के शासन के बाद इस्तीफा देने के लिए मजबूर किया। बहरहाल, अल बशीर के सत्ता से बेदखल होने की परिस्थितियां और फिलहाल वह कहां है, यह स्पष्ट नहीं है। सरकारी टीवी ने पहले खबर दी थी कि सशस्त्र बलों को एक  अहम संदेश  देना है और राष्ट्र को इसके लिए इंतजार करने को कहा गया है।


सरकार और सेना में वरिष्ठ पदों पर आसीन दो अधिकारियों ने नाम न उजागर करने की गुजारिश पर एसोसिएटिड प्रेस को बताया कि सशस्त्र बलों ने अल बशीर को इस्तीफा देने को मजबूर कर दिया है और अंतरिम सरकार के गठन के लिए बातचीत कर रहे हैं।  गौरतलब है कि सूडान में अल बशीर के शासन के खिलाफ करीब चार महीनों से सड़कों पर विरोध प्रदर्शन चल रहे थे। इससे इस तरह के अंदेशे थे वह सत्ता छोड़ने के लिए राजी नहीं है और उन्हें सेना हटा सकती है।
पैन अरब टीवी नेटवर्क में कहा कि सत्तारूढ़ पार्टी के शीर्ष अधिकारियों को गिरफ्तार किया जा रहा है। उन्होंने लोगों की फुटेज भी प्रसारित की है जो खरतौम में राष्ट्रीय ध्वज लहराते हुए और तालियां बजाते हुए राष्ट्रपति भवन की ओर बढ़ रहे थे। अल बशीर जो कि कई देशों के लिए अछूत बने थे, की तलाश दरफूर में अत्याचारों के लिए अंतरराष्ट्रीय युद्ध अपराध अधिकरण को भी है। चश्मदीदों ने खरतौम में बताया कि शहर में सुबह से ही अहम इमारतों और स्थलों पर सेना की तैनाती की गई है।


 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप