• खूनी संग्राम के बीच में पंजशीर के लिए तालिबान की नई चाल, सभी रास्तों को किया बंद

प्राप्त जानकारी के मुताबिक तालिबान पंजशीर घाटी में राशन, दवाओं समेत अन्य जरूरी सामानों को संकट पैदा करना चाहता है। इसके लिए तालिबान ने योजना बना ली है। दरअसल, तालिबान ने पंजशीर के तमाम रास्तों को बंद कर दिया है।

काबुल। अफगानिस्तान के पंजशीर में खूनी संग्राम अभी भी जारी है। अहमद मसूद के नेतृत्व वाली नॉर्दन एलायंस तालिबान के लड़ाकों के साथ युद्ध लड़ रही है। इसी बीच तालिबान ने पंजशीर पर अपनी पकड़ को मजबूत करने के लिए एक नई चाल अपनाई है।  

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान ने पंजशीर घाटी हमले में संलिप्तता की खबरों को खारिज किया 

प्राप्त जानकारी के मुताबिक तालिबान पंजशीर घाटी में राशन, दवाओं समेत अन्य जरूरी सामानों को संकट पैदा करना चाहता है। इसके लिए तालिबान ने योजना बना ली है। दरअसल, तालिबान ने पंजशीर के तमाम रास्तों को बंद कर दिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक तालिबान ने पंजशीर के सभी रास्तों को बंद कर दिया है। जिसकी वजह से आने वाले समय में राशन समेत जरूरी सामान का संकट उत्पन्न हो सकता है।

संचार सेवा ठप्प

जानकार बताते हैं कि पंजशीर भारी संकट का सामना कर रहा है। काबुल आए कुछ परिवारों ने बताया कि हालात नहीं सुधरे तो लोग भूख से मर जाएंगे।पंजशीर घाटी में युद्ध छिड़ने के बाद कई रास्त बंद हो गए। जबकि संचार सेवाओं को ठप्प कर दिया गया। 

इसे भी पढ़ें: अभी भी धड़क रहा अफगानिस्तान का दिल 'पंजशीर', अहमद मसूद के समर्थन में हो रहे विरोध प्रदर्शन 

तालिबान के प्रवक्ता ने पंजशीर में कब्जा करने का दावा करते हुए कहा था कि तालिबान अब हर जगह है। हालांकि अहमद मसूद ने तालिबान के दावे को खारिज कर दिया था और उसके खिलाफ खड़े होने की अपील की थी।