द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान मारे गए पायलट के अवशेष 7 दशक बाद देश लौटे

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Aug 11 2018 11:32AM
द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान मारे गए पायलट के अवशेष 7 दशक बाद देश लौटे

द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान मारे गए पायलट के अवशेषों को आखिरकार 73 वर्षों बाद उनके गृह राज्य नेब्रास्का में सैन्य सम्मान के साथ दफनाया गए। फ्लाइट ऑफीसर रिचर्ड लेन वर्ष 1944 में युद्ध के दौरान मारे गए थे।

बियैट्रिस। द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान मारे गए पायलट के अवशेषों को आखिरकार 73 वर्षों बाद उनके गृह राज्य नेब्रास्का में सैन्य सम्मान के साथ दफनाया गए। फ्लाइट ऑफीसर रिचर्ड लेन वर्ष 1944 में युद्ध के दौरान मारे गए थे। उनके परिवार का मानना था कि उनका शव दक्षिण पूर्वी नेब्रास्का के फिली में दफन है और वे ‘मेमॉरियल डे’ पर वहां जाते थे। लेकिन हाल ही में पता चला कि लेन के नाम से दफन अवशेष उनके नहीं हैं।

सेना ने गलत अवशेष नेब्रास्का भेज दिए थे। असल में लेन के शव को बेल्जियम स्थित सैन्य कब्रिस्तान में दफनाया गया था। इडाहो में एक परिवार को दोनों सैनिकों के शवों के बदल जाने का पता चलने के बाद लेन के परिवार को इस घटना की जानकारी मिली। लेन के परिवार ने गुरुवार को दोबारा अंतिम संस्कार करते हुए अवशेषों को बियैट्रिस में दफनाया।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप