‘फाइंडिंग फ्रीडम” बुक में हुआ खुलासा, मेगन मार्कल के कारण शाही भाइयों के बीच आ गई थी दरार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जुलाई 27, 2020   11:07
‘फाइंडिंग फ्रीडम” बुक में हुआ खुलासा, मेगन मार्कल के कारण शाही भाइयों के बीच आ गई थी दरार

पुस्तक ‘फाइंडिंग फ्रीडम” के श्रृंखलाबद्ध संस्करण की दूसरी किस्त में दावा किया गया है कि हैरी अमेरिकी अभिनेत्री के बारे में एक चर्चा के दौरान विलियम के दंभ भरे स्वर से गुस्सा हो गए थे। उस वक्त वह मार्कल को डेट कर रहे थे। पुस्तक की दूसरी किस्त का कुछ अंश ‘संडे टाइम्स’ में प्रकाशित हुआ है।

लंदन। शाही घराने विंडसर पर आई एक नयी पुस्तक में कहा गया कि प्रिंस विलियम ने अपने छोटे भाई को यह कहकर गुस्सा दिलाया दिया था कि उन्हें मेगन मार्कल के साथ अपने रिश्ते में धीरे-धीरे आगे बढ़ना चाहिए क्योंकि उनको भय था कि प्रिंस हैरी “प्रेम में अंधे” हो गए हैं। पुस्तक ‘फाइंडिंग फ्रीडम” के श्रृंखलाबद्ध संस्करण की दूसरी किस्त में दावा किया गया है कि हैरी अमेरिकी अभिनेत्री के बारे में एक चर्चा के दौरान विलियम के दंभ भरे स्वर से गुस्सा हो गए थे। उस वक्त वह मार्कल को डेट कर रहे थे। पुस्तक की दूसरी किस्त का कुछ अंश ‘संडे टाइम्स’ में प्रकाशित हुआ है। शाही संवाददाताओं ओमिड स्कोबी और कैरोलीन डुरांड ने लिखा कि हैरी को विलियम की वह सलाह पसंद नहीं आई थी जिसमें उन्होंने कहा था कि, “इस लड़की को जानने के लिए जितना समय जरूरी लगे उतना लो।’’

इसे भी पढ़ें: ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय ने अपने पेटिंग को किया डिजिटल लॉन्च

लेखकों ने विलियम के करीबी एक स्रोत का हवाला देकर बताया कि विलियम नहीं चाहते थे कि हैरी “प्रेम में अंधे” हो जाएं। लेखकों ने लिखा कि हैरी को ‘‘ऐसा महसूस नहीं होता था” और उन्होंने इसे खराब ढंग से लिया। पुस्तक के सार में कहा गया, “उन अंतिम दो शब्दों ‘इस लड़की” में हैरी को दंभ का स्वर सुनाई दिया जो दुनिया के प्रति उनके नफरत भरे दृष्टिकोण को दिखाता था।” इसमें इस बात का भी जिक्र है कि हैरी ने 10 साल सेना में और शाही परिवार के बाहर बिताए हैं। लेखकों ने कहा, “इस सबमें से मेगन को हटा भी दें तो हैरी अपने और अपने बड़े भाई के बीच स्थापित विचारों से थक गए थे।” पुस्तक के प्रकाशन की घोषणा करते हुए हार्पर कोलिन्स यूके ने कहा कि स्कोबी की पुस्तक का लक्ष्य “असल हैरी और मेगन” को कैद करना होगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

अंतर्राष्ट्रीय

झरोखे से...