दुनिया को मिला पहला Robot Lawyer, कोर्ट में इस तरह से पेश करेगा दलीलें

artificial intelligence
प्रतिरूप फोटो
Creative Commons licenses
रितिका कमठान । Jan 21, 2023 3:52PM
अमेरिका में अब कोर्ट में रोबोट भी वकील के तौर पर बहस करेंगे। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मदद से अब दुनिया का पहला रोबोट वकील का निर्माण हो गया है। इस रोबोट वकील से ओवर स्पीडिंग से संबंधित मामलों की सलाह मिलेगी।

अमेरिका में अब आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मदद से एक वकील कोर्ट में केस लड़ेगा। ये वकील कोई आम इंसान नहीं बल्कि एक रोबोट है, जो कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से संचालित होगा। इस रोबोट वकील को लेकर काफी उत्साह का माहौल देखने को मिल रहा है।

शुरुआत में इस रोबोट वकील से ओवर स्पीडिंग के मामलों की कानूनी सलाह ली जाएगी। इस रोबोट वकील का निर्माण अमेरिका आधारित स्टार्टअप कंपनी DoNotPay ने किया है। ये रोबोट फरवरी 2023 से कोर्ट रूम में अपनी सेवाएं देने के लिए पूरी तरह से तैयार है।

गौरतलब है कि ये पहला मौका है जब किसी अदालत में एक रोबोट वकील के तौर पर आएगा। आम वकीलों की तरह वकील भी अदालत में जिरह करता दिखेगा। ये रोबोट वकील स्मार्टफोन की मदद से चलता है। अदालती कार्यवाही के पूरा होने के बाद ईयरपीस की मदद से प्रतिवादियों को निर्देश मिलेगा। रोबोट अपने क्लाइंट्स को ये भी सुझाएगा कि जुर्माना और अन्य दंड का भुगताान करने से बचा जा सकेगा।

इस रोबोट का निर्माण करने वाले स्टार्टअप कंपनी DoNotPay के संस्थापक और सीईओ जोशुआ ब्राउनर ने कानून को कोड और भाषा का मिलाजुला स्वरूप बताया है। ये ऐसा है कि इसमें आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का भी सटीक इस्तेमाल होता है।

अमेरिका में बैन है ये चीजें

बता दें कि अमेरिका में न्यायालय में किसी भी तरह से इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स का उपयोग करना मना है। अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट ने इनके उपयोग पर बैन लगाया है। अमेरिका की तरह कई देश ऐसे हैं जहां इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स के उपयोग पर पूर्णत: बैन है। हालांकि कंपनी की तरफ से हियरिंग एक्सेसिबिलिटी की गाइडलाइंस का पालन करते हुए रोबोट को एयरपॉड्स दिए जाएंगे। 

अन्य न्यूज़