पाकिस्तान में नया आर्मी चीफ बनने वाला है! करांची में बम फटा और बाजवा का सिंहासन डोला

पाकिस्तान में नया आर्मी चीफ बनने वाला है! करांची में बम फटा और बाजवा का सिंहासन डोला
Creative Common

कराची ब्लास्ट के बाद जनरल बाजवा की कुर्सी मिल रही है। करांची धमाके का टारगेट पाकिस्तानी आर्मी थी। 1 महीने में कराची में दो अटैक हुए। पाकिस्तानी फौज ऐसे हमले रोक नहीं पा रही और मुल्क भरने अपना टारगेट बाजवा को बना लिया है।

पाकिस्तान में ऐसा पहली बार हुआ है जब जनरल बाजवा के खिलाफ आवाजें उठने लग गई है। नेता पत्रकार और पूरी आवाम जनरल से सवाल पूछ रही है और पीएम के बदले बाजवा ही घिर गए हैं। आज से पहले ऐसा कभी नहीं हुआ पाकिस्तान में कोई भी फौज पर सीधे-सीधे उंगली नहीं उठा सकता था। सीधे आर्मी से पंगा नहीं लेता था लेकिन इस बार बाजवा की कुर्सी हिलती हुई दिख रही है।

राजनीति से बाजवा की दूरी क्या है दिखावा

दरअसल कराची ब्लास्ट के बाद जनरल बाजवा की कुर्सी मिल रही है। करांची धमाके का टारगेट पाकिस्तानी आर्मी थी। 1 महीने में कराची में दो अटैक हुए। पाकिस्तानी फौज ऐसे हमले रोक नहीं पा रही और मुल्क भरने अपना टारगेट बाजवा को बना लिया है। मुल्क भर में बाजवा पर बहस चली तो आर्मी चीफ पाकिस्तान के पंजाब में एक वॉर गेम में हिस्सा लेने चले गए। लगा जनरल खुद को सियासत से दूर रख रखना चाहते हैं।

इसे भी पढ़ें: सियालकोट रैली से पहले इमरान समर्थकों पर पुलिस ने दागे आंसू गैस के गोले, पीटीआई कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज

मरियम का फौज पर निशाना

डॉन की एक रिपोर्ट के मुताबिक मरियम ने गुरुवार को इस्लामाबाद उच्च न्यायालय के बाहर एक संवाददाता सम्मेलन में रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ की टिप्पणियों के बारे में एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि पाकिस्तान की हिफाजत के लिए पाकिस्तानी सेना को लोग देखती है। ऐसा शख्स जिसके ऊपर कोई दाग नहीं हो। वो आर्मी चीफ बने, यह मरियम नवाज का कहना है। मरियम नवाज का बयान विपक्षी दलों सहित कई हलकों में सकारात्मक नहीं लिया गया, जिन्होंने सेना प्रमुख की नियुक्ति पर पीएमएल-एन नेता की इस तरह की टिप्पणी करने की क्षमता पर सवाल उठाया है। बस इतनी सी बात को लेकर पाकिस्तानी सेना भड़क गई और इशारों-इशारों में मरियम का नाम लिए बिना राजनेताओं को बेबुनियाद बयान देने से बचने की नसीहत दे डाली। इससे पहले बिलावल भुट्टो की फौज पर विवादित बयान दे चुके हैं उन्होंने कहा कि उन्हें मार्शल लॉ की धमकी दी गई थी। 

इसे भी पढ़ें: जम्मू कश्मीर: अंतरराष्ट्रीय सीमा पर फिर दिखा पाकिस्तानी ड्रोन, BSF जवानों ने बरसाईं कई गोलियां

नवंबर में रिटायर हो रहे हैं बाजवा

बता दें कि पाकिस्तान के मौजूदा आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा नवंबर में रिटायर हो रहे हैं। 61 साल के जनरल बाजवा को 2016 में तत्कालीन प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने सेना प्रमुख के रूप में नियुक्त किया था। सुप्रीम कोर्ट की ओर से तय किए गए रिटायरमेंट से ठीक पांच महीने पहले सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा को जून 2020 में पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक्सटेंशन दिया था। लेकिन पाकिस्तान के 75 सालों में आर्मी चीफ का इस तरह से मजाक कभी नहीं बना।






Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

अंतर्राष्ट्रीय

झरोखे से...