फर्जी मुकदमा दायर करने पर Trump व उनके वकील पर जुर्माना

Trump
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Commons
अमेरिकी जिला न्यायाधीश डोनाल्ड एम मिडिलब्रुक्स ने ट्रंप की खिंचाई करते हुए उन पर राजनीतिक उद्देश्यों के लिए फर्जी मुकदमे दायर करने की खातिर अदालतों के दुरुपयोग का आरोप लगाया।

अमेरिका की एक अदालत ने पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनके एक वकील पर हिलेरी क्लिंटन एवं अन्य लोगों के खिलाफ फर्जी मुकदमा दायर करने के लिए करीब 10 लाख अमेरिकी डॉलर का जुर्माना लगाया है। फ्लोरिडा की एक अदालत ने बृहस्तपतिवार को यह अपना आदेश सुनाया। अमेरिकी जिला न्यायाधीश डोनाल्ड एम मिडिलब्रुक्स ने ट्रंप की खिंचाई करते हुए उन पर राजनीतिक उद्देश्यों के लिए फर्जी मुकदमे दायर करने की खातिर अदालतों के दुरुपयोग का आरोप लगाया। अदालत ने कहा कि इससे कानून का शासन कमजोर होता है और यह न्याय को बाधित करने के समान है।

उन्होंने अपने आदेश में लिखा, यहां, हम एक ऐसे मुकदमे की सुनवाई कर रहे हैं, जिसे कभी दायर नहीं किया जाना चाहिए था और यह तथ्यात्मक और कानूनी - दोनों तरह से तुच्छ है और इसे अनुचित उद्देश्य के लिए दायर किया गया था।’’ अदालत ने ट्रंप द्वारा दायर विभिन्न मुकदमों का जिक्र करते हुए ट्रंप को एक ‘‘होशियार’’ मुकदमेबाज बताया, जो अपने राजनीतिक विरोधियों से बदला लेने के लिए अदालतों का उपयोग करते हैं। अदालत ने कहा, वह न्यायिक प्रक्रिया के रणनीतिक दुरुपयोग के सरगना हैं।’’ इस फैसले के बाद ट्रंप और उनकी वकील अलीना हब्बा को मामले के प्रतिवादियों को करीब 9,38,000 अमेरिकी डॉलर का भुगतान करना पड़ेगा।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़