ट्रंप समर्थकों और प्रदर्शनकारियों के बीच हिंसक झड़प,1 व्यक्ति की मौत

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अगस्त 31, 2020   12:14
ट्रंप समर्थकों और प्रदर्शनकारियों के बीच हिंसक झड़प,1 व्यक्ति की मौत

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और पोर्टलैंड के मेयर टेड व्हीलर ने गोलीबारी का आरोप एक-दूसरे पर मढ़ा। व्हीलर ने ट्रंप पर जहरीला माहौल बनाने का आरोप लगाते हुए कहा, “वह आप हैं जिसने घृणा एवं विभाजन पैदा किया है।” उन्होंने कहा, “आपने आधुनिक इतिहास के किसी भी अन्य व्यक्ति की तुलना में हमें बांटने की कोशिश की है।

पोर्टलैंड। पोर्टलैंड की सड़कों पर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों और वामपंथी प्रदर्शनकारियों के बीच हुई झड़प में मारा गया व्यक्ति दक्षिणपंथी समूह ‘पेट्रियट प्रेयर’ का समर्थक था। समूह के संस्थापक ने रविवार को यह जानकारी दी। वाशिंगटन स्थित समूह के प्रमुख जोय गिबसन ने बताया कि शनिवार रात जिस व्यक्ति की गोली मारकर हत्या की गई थी वह “अच्छा मित्र” था लेकिन उन्होंने उसकी शिनाख्त नहीं की। रविवार को, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और पोर्टलैंड के मेयर टेड व्हीलर ने गोलीबारी का आरोप एक-दूसरे पर मढ़ा। व्हीलर ने ट्रंप पर जहरीला माहौल बनाने का आरोप लगाते हुए कहा, “वह आप हैं जिसने घृणा एवं विभाजन पैदा किया है।” उन्होंने कहा, “आपने आधुनिक इतिहास के किसी भी अन्य व्यक्ति की तुलना में हमें बांटने की कोशिश की है। और अब आप चाहते हैं कि मैं इस हिंसा को रोकूं जिसे आपने बढ़ावा दिया है।” ट्रंप ने इससे पहले कई ट्वीट और रिट्वीट किए थे जिनमें मौत के लिए व्हीलर को दोष देने वाले ट्वीट भी शामिल थे और एक में राष्ट्रपति अपने समर्थकों को पोर्टलैंड में जाने के लिए प्रोत्साहित करते हुए भी प्रतीत हुए।

इसे भी पढ़ें: अमेरिका के केनोशा में जैकब ब्लेक को गोली मारे जाने के विरोध में प्रदर्शन और भी हुआ हिंसात्मक

ट्रंप ने प्रदर्शनकारियों का सामना करने के लिए अपने समर्थकों के पोर्टलैंड में प्रवेश से जुड़े एक वीडियो साझा करते हुए लिखा, “महान पेट्रिअट्स”। गिबसन ने कहा कि वह भी शनिवार की रात पोर्टलैंड में थे जब ट्रंप समर्थकों की ‘ब्लैक लाइव्स मैटर्स’ के प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प हुई थी। पुलिस ने हत्यी के संबंध में किसी भी तरह की सूचना दी जाने की अपील की है चाहे वह वीडियो, फोटो के रूप में हो या किसी प्रत्यक्षदर्शी की आंखोदेखी। यह गोलीबारी ट्रंप के समर्थन में हो रही रैली के तहत 600 वाहनों के काफिले के नगर के केंद्र के लिए रवाना होने के 15 मिनट बाद हुई। यह साफ नहीं है कि गोलीबारी ट्रंप समर्थकों और पोर्टलैंड के प्रदर्शनकारियों के बीच हुई झड़प से ही संबंधित है या नहीं। पुलिस ने इस मामले में कोई सूचना जारी नहीं की लेकिन कहा कि वे सोशल मीडिया पर प्रसारित हो रहे वीडियो से अवगत हैं जिसमें गोली चलने की घटना दिख रही है। पुलिस ने बताया कि व्यक्ति को सीने में गोली मारी गई है। उसकी तत्काल पहचान नहीं हो सकी है और यह भी साफ नहीं है कि उसे किसने गोली मारी।

इसे भी पढ़ें: डोनाल्ड ट्रंप के खुफिया प्रमुख ने चुनाव सुरक्षा जानकारी कैपिटोल हिल को देना बंद की

मिनियापोलिस में पुलिस के हाथों जॉर्ज फ्लायड की हत्या के बाद से तीन महीने से अधिक वक्त से पोर्टलैंड में रातभर विरोध प्रदर्शन होते हैं। कार्यवाहक गृह सुरक्षा मंत्री चाड वोल्फ ने स्थानीय अधिकारियों पर “उनके समुदाय की रक्षा नहीं कर पाने’’ का आरोप लगाया। उधर, रविवार को डेमोक्रेट्स ने भी ट्रंप पर अपने अभियान को लाभ पहुंचाने के लिए नस्ली हिंसा को भड़काने का आरोप लगाया। पूरी गर्मी ट्रंप ने अमेरिकी शहरों को हिंसा एवं अव्यवस्था की चपेट में बताया वह भी इस तथ्य के बावजूद कि नस्ली अन्याय के खिलाफ हो रहे ज्यादातर प्रदर्शन शांतिपूर्ण रहे हैं। चुनाव में करीब नौ हफ्ते का वक्त बचा है और उनके कुछ सलाहकार ‘‘कानून एवं व्यवस्था” बरकरार रखने का आक्रामक संदेश देने को ट्रंप के लिए मत जुटाने के बेहतर तरीके के रूप में देख रहे हैं। लेकिन डेमोक्रेट्स ट्रंप पर अशांति पैदा करने और तनाव कम करने की बजाय राजनीतिक लाभ के लिए और हिंसा भड़काने का आरोप लगा रहे हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

अंतर्राष्ट्रीय

झरोखे से...