खाड़ी में बढ़ते तनाव के बीच ब्रिटेन ने ईरान से ब्रितानी टैंकर छोड़ने की अपील की

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 21 2019 1:00PM
खाड़ी में बढ़ते तनाव के बीच ब्रिटेन ने ईरान से ब्रितानी टैंकर छोड़ने की अपील की
Image Source: Google

ब्रिटेन ने खाड़ी में बढ़े तनाव को कम करने के लिए ईरान से उसके द्वारा जब्त किए गए ब्रितानी टैंकर को छोड़ने की शनिवार को अपील की। ब्रिटेन ने कहा था कि ओमानी जलक्षेत्र में इस पोत को अवैध तरीके से जब्त किया जाना ‘‘पूरी तरह अस्वीकार्य” कदम है।

लंदन। ब्रिटेन ने खाड़ी में बढ़े तनाव को कम करने के लिए ईरान से उसके द्वारा जब्त किए गए ब्रितानी टैंकर को छोड़ने की शनिवार को अपील की। ब्रिटेन ने कहा था कि ओमानी जलक्षेत्र में इस पोत को अवैध तरीके से जब्त किया जाना ‘‘पूरी तरह अस्वीकार्य” कदम है। ईरान जब्त किए गए तेल टैंकर और उसके चालक दल के सदस्यों को आजाद करने की यूरोपीय अपीलों को लगातार अनुसना कर रहा है। वहीं अमेरिका ईरान के क्षेत्रीय धुर विरोधी सऊदी अरब में अपने सैनिकों की फिर से तैनाती करने की तैयारी शुरू कर दी है। 

इसे भी पढ़ें: ब्रिटिश टैंकर के मार्ग को रोकने की कोशिश कर रहा है ईरान: ब्रिटेन सरकार

ईरान के इस्लामिक रेवोल्यूशनरी गार्ड कोर (आईआरजीसी) ने कहा कि उसने हरमुज जलडमरुमध्य में ‘‘अंतरराष्ट्रीय समुद्री नियमों” को तोड़ने के लिए शुक्रवार को स्टेना इंपेरो को जब्त कर लिया था। ईरानी अधिकारियों ने कहा कि मछली पकड़ने वाली एक नौका के साथ टक्कर होने के बाद मदद के लिए संपर्क करने पर कथित तौर पर जवाब नहीं देने के चलते तेल के टैंकर को बंदर अब्बास बंदरगाह पर जब्त कर लिया गया था। 
इससे कुछ ही समय पहले जिब्राल्टर की एक अदालत ने कहा था कि वह ब्रिटिश अधिकारियों द्वारा जब्त किए गए ग्रेस 1 ईरानी टैंकर को हिरासत में रखने की अवधि को 30 दिन बढ़ा रही है। ब्रिटिश विदेश मंत्री जेरेमी हंट ने ईरानी समकक्ष मोहम्मद जवाद जरीफ के साथ बात करने और ब्रिटेन की आपदा मोचन समिति के साथ मुलाकात के बाद कहा, “वह इसे जैसे को तैसा वाली स्थिति” के तौर पर देख रहे हैँ।
 



रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप