यूक्रेन की हरकत का हुआ खुलासा, कब्जाए गए रूसी टैंकों का हो रहा इस्तेमाल

यूक्रेन
Google Creative Commons
यूक्रेन उत्तर पूर्वी क्षेत्र पर अपनी बढ़त को मज़बूत करने के लिए रूस के पकड़े गए टैंकों को तैनात कर रहा है। यह दावा अमेरिका के एक थिंकटैंक ने किया है। वहीं कीव ने उन क्षेत्रों पर आगे बढ़ने का संकल्प लिया है जिनपर रूस ने कब्जा कर लिया है।

यूक्रेन उत्तर पूर्वी क्षेत्र पर अपनी बढ़त को मज़बूत करने के लिए रूस के पकड़े गए टैंकों को तैनात कर रहा है। यह दावा अमेरिका के एक थिंकटैंक ने किया है। वहीं कीव ने उन क्षेत्रों पर आगे बढ़ने का संकल्प लिया है जिनपर रूस ने कब्जा कर लिया है। वाशिंगटन स्थित ‘इंस्टीट्यूट फॉर स्टडी ऑफ वार’ ने रूसी दावों के हवाले से कहा कि यूक्रेन टी-72 टैंकों का इस्तेमाल कर रहा है जिन्हें रूसी सेना ने छोड़ दिया था और अब यूक्रेन रूस के कब्जे वाले क्षेत्र लुहांस्क में आगे बढ़ने की कोशिश में है।

संस्थान ने कहा, “ जवाबी हमले से शुरू में घबराए रूसी सैनिक उच्च गुणवत्ता वाले उपकरण छोड़ गए थे जो चालू स्थिति में हैं जबकि अप्रैल में कीव से पीछे हटने के दौरान रूसी सैनिक क्षतिग्रस्त उपकरण छोड़कर गए थे।” इस महीने के शुरू में यूक्रेन ने जबावी हमले शुरू किए थे और अपने दूसरे सबसे बड़े शहर खारकीव के आसपास के इलाकों में उसके सैनिक घुस गए थे।

वीडियो और फोटो में दिख रहा है कि यूक्रेनी सैनिक टैंकों, गोलाबारूद और अन्य हथियारों को अपने कब्जे में ले रहे हैं जिन्हें रूस के सैनिक पीछे हटने के दौरान वहां छोड़ गए थे। इस दौरान यूक्रेन के सैनिकों को इजीयुम (रिपीट) इजीयुम शहर के पास कब्रें मिली हैं। यूक्रेन के उप गृह मंत्री येवहेनी येनीन ने एक टीवी चैनल को बताया कि अधिकारियों ने कब्रों की खुदाई की तो उनमें से शव मिले हैं और ऐसा लगता है कि उन्हें प्रताड़ित किया गया था।

उन्होंने कहा कि शवों की पसलियां, सिर की हड्डी, जबड़ा टूटा हुआ है और उन्हें अन्य तरीकों से भी प्रताड़ित किया गया है। यूक्रेन के अधिकारियों का आरोप रहा है कि रूस ने कब्जाए गए क्षेत्रों में लोगों को प्रताड़ित किया है लेकिन रूस ने इन इल्ज़ामों का खंडन किया है। इस बीच, यूक्रेनी बल देश के दक्षिणी हिस्से में आगे बढ़ रहे हैं। संस्थान ने यूक्रेन की सेना के हवाले से कहा कि कीव की फौज ने गोलाबारूद के एक डिपो, दो कमान चौकियों और इलेक्ट्रॉनिक युद्ध प्रणाली को तबाह कर दिया है। यूक्रेनी सेना की दक्षिणी कमान ने बताया कि उसने मंगलवार को तड़के रूस के कब्जे वाले नोवा काखोवका शहर के पास रूस के बजरे को नीपर नदी में डुबा दिया जिसमें उसके सैनिक और हथियार सवार थे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़