संरा ने Taliban के झंडे के सामने खड़े अपने कर्मियों की तस्वीरें सामने आने के बाद माफी मांगी

UN apologizes after photos surface of its personnel
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Commons
संयुक्त राष्ट्र में सर्वोच्च रैंकिंग वाली महिला मोहम्मद, संयुक्त राष्ट्र महिला की कार्यकारी निदेशक सिमा बाहौस और राजनीतिक, शांति निर्माण मामलों और शांति संचालन विभाग के सहायक महासचिव खालिद खियारी के साथ शुक्रवार को अफगानिस्तान की चार दिवसीय यात्रा पूरी की।

संयुक्त राष्ट्र ने अपनी उप महासचिव अमीना मोहम्मद के नेतृत्व में एक दल के अफगानिस्तान के दौरे पर कुछ कर्मियों की ऐसी तस्वीरें सामने आने के बाद खेद जताया है जिनमें वेतालिबान के झंडे के सामने खड़े दिख रहे हैं। संयुक्त राष्ट्र में सर्वोच्च रैंकिंग वाली महिला मोहम्मद, संयुक्त राष्ट्र महिला की कार्यकारी निदेशक सिमा बाहौस और राजनीतिक, शांति निर्माण मामलों और शांति संचालन विभाग के सहायक महासचिव खालिद खियारी के साथ शुक्रवार को अफगानिस्तान की चार दिवसीय यात्रा पूरी की।

इस प्रतिनिधिमंडल ने अफगानिस्तान की चार दिवसीय यात्रा के दौरान तालिबान से महिलाओं और लड़कियों के अधिकारों को बहाल करने की अपील की। संयुक्त राष्ट्र के एक प्रवक्ता ने कहा कि तालिबान के कुछ अधिकारी महिलाओं के अधिकारों को बहाल करने के पक्ष में थे, लेकिन अन्य स्पष्ट रूप से इसके खिलाफ थे। हालांकि, जब मोहम्मद तालिबान के नेताओं से मिल रही थीं, तो संयुक्त राष्ट्र के कुछ सुरक्षाकर्मियों की तालिबान के झंडे के सामने खड़े होने की तस्वीरें सामने आने के बाद इसकी आलोचना की गई।

यात्रा और तस्वीरों के बारे में सवाल करने पर संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस के उप प्रवक्ता फरहान हक ने शुक्रवार को यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘वह तस्वीर नहीं ली जानी चाहिए थी। यह स्पष्ट रूप से एक चूक को दर्शाता है। यह एक गलती है और हम इसके लिए माफी मांगते हैं। मेरा मानना है कि इन अधिकारियों के पर्यवेक्षकों ने उनसे इस बारे में बात की है।’’ हक ने कहा कि तस्वीर तब ली गई जब उप महासचिव अफगानिस्तान में तालिबान के नेताओं से मिल रही थीं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़