पाकिस्तान के साथ मजबूत सैन्य संबंध बनाए रखने की आवश्यकता है: अमेरिकी जनरल

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 12 2019 12:00PM
पाकिस्तान के साथ मजबूत सैन्य संबंध बनाए रखने की आवश्यकता है: अमेरिकी जनरल
Image Source: Google

अमेरिका के एक शीर्ष जनरल ने कहा कि वॉशिंगटन को पाकिस्तान के साथ मजबूत संबंध बनाए रखने की आवश्यकता है। यह बयान ऐसे समय में आया है जब इस महीने के अंत में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के बीच व्हाइट हाउस में मुलाकात होनी है।

वॉशिंगटन। अमेरिका के एक शीर्ष जनरल ने कहा कि वॉशिंगटन को पाकिस्तान के साथ मजबूत संबंध बनाए रखने की आवश्यकता है। यह बयान ऐसे समय में आया है जब इस महीने के अंत में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के बीच व्हाइट हाउस में मुलाकात होनी है।

इसे भी पढ़ें: करतारपुर गलियारा पर चर्चा करने के लिए भारत-पाक तैयार, 14 जुलाई को होगी बैठक

‘ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टॉफ’ के अध्यक्ष के तौर पर नामित जनरल मार्क ए. मिल्ले ने इस पद के लिए उनके नाम की पुष्टि संबंधी सुनवाई में सीनेट की सशस्त्र सेवा समिति के समक्ष लिखित प्रश्नों के उत्तर में कहा कि भले ही, हमने सुरक्षा सहायता और बड़ी रक्षा वार्ताओं को रोक दिया है, लेकिन हमें हमारे साझा हितों के आधार पर मजबूत सैन्य संबंध बनाए रखने की आवश्यकता है।


इसे भी पढ़ें: फ्रांस ने चोरी की करीब 500 कलाकृतियां पाकिस्तान को लौटाएं

उन्होंने बृहस्पतिवार को कहा कि राष्ट्रपति ट्रम्प की दक्षिण एशिया रणनीति अमेरिकी हितों को हासिल करने में पाकिस्तान को एक अहम सहयोगी मानती है। अलकायदा या आईएसआईएस से निपटने में और क्षेत्रीय स्थिरता को बढ़ाने में पाकिस्तान अहम सहयोगी है। उन्होंने कहा कि यदि अध्यक्ष के तौर पर मेरे नाम की पुष्टि होती है तो मेरा उद्देश्य अमेरिका और पाकिस्तान के बीच रक्षा संबंधों को बरकरार रखना होगा और हम पाकिस्तान पर अमेरिका के अनुरोधों के अनुसार काम करने का दबाव बनाएंगे। उन्होंने एक प्रश्न के उत्तर में कहा कि पाकिस्तान ने अफगानिस्तान से सुलह के समर्थन में सकारात्मक योगदान दिया है।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप