• क्या राष्ट्रपति मैक्रों का फोन जासूसों के निशाने पर था? फ्रांस करेगा जांच

फ्रांसीसी सरकार के प्रवक्ता गैब्रियल अट्टल ने कहा कि पार्ले जानना चाहती थीं कि ऐसे ‘दुरुपयोग’ को रोकने के लिए क्या कदम उठाए जा सकते हैं।

पेरिस। फ्रांसीसी जांचकर्ता राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों और सरकार के अन्य अधिकारियों के फोन की संभावित जासूसी के मामले की जांच करेंगे। इसी कड़ी में फ्रांस की रक्षामंत्री फ्लोरेंस पार्ले अपने इजराइली समकक्ष बेन्नी गैंट्स के साथ पेरिस में बुधवार को हुई बैठक में जानना चाहा कि क्या इजराइल को स्पाईवेयर कंपनी एनएसओ के ग्राहकों के बारे में जानकारी थी जिन्होंने संभवत: मैक्रों और फ्रांसीसी सरकार के अन्य अधिकारियों के मोबाइल फोन की जासूसी की। फ्रांसीसी सरकार के प्रवक्ता गैब्रियल अट्टल ने कहा कि पार्ले जानना चाहती थीं कि ऐसे ‘दुरुपयोग’ को रोकने के लिए क्या कदम उठाए जा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: बसपा सुप्रीमो मायावती की SC से अपील, पेगासस मामले पर संज्ञान लेते हुए अपनी निगरानी में कराए जांच

उन्होंने कहा कि फ्रांस वर्ष 2019 में मैक्रों और सरकार के सदस्यों को मोरोक्को की अज्ञात सुरक्षा सेवा द्वारा एनएसओ के पेगासस स्पाईवेयर का इस्तेमाल कर निशाना बनाने के संभावित मामले की तह में जाने की कोशिश कर रहा है। मोरक्को ने हालांकि आरोपों से इनकार किया है।