अमेरिकी सदन में मास्क पहनना हुआ अनिवार्य, मास्क ना पहनने पर चैंबर से सदस्यों को किया जाएगा निष्कासित

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जुलाई 30, 2020   14:36
अमेरिकी सदन में मास्क पहनना हुआ अनिवार्य,  मास्क ना पहनने पर चैंबर से सदस्यों को किया जाएगा निष्कासित

अमेरिका में प्रतिनिधिसभा की स्पीकर नैन्सी पैलोसी ने रिपब्लिकन सदस्य के कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद सदन में मास्क पहनना अनिवार्य किया है।पेलोसी ने बुधवार शाम सदन में घोषणा की कि सभी सदस्यों को मास्क पहनना होगा और कोई मास्क लाना भूल जाएगा तो हम उसे मास्क देंगे। मास्क ना पहनने को शिष्टाचार का गंभीर उल्लंघन माना जाएगा।

वाशिंगटन। अमेरिका में प्रतिनिधिसभा की स्पीकर नैन्सी पैलोसी ने कांग्रेस के एक रिपब्लिकन सदस्य के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि के बाद सदन में मास्क पहनने पर जोर दिया। टेक्सास का प्रतिनिधित्व करने वाले लुई गोहमर्ट के वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है, जो कई बार मास्क पहनने से मना करते आए हैं और मतदान भी उन्होंने मास्क पहने बिना ही किया था। पेलोसी ने बुधवार शाम सदन में घोषणा की कि सभी सदस्यों को मास्क पहनना होगा और कोई मास्क लाना भूल जाएगा तो हम उसे मास्क देंगे। उन्होंने कहा कि मास्क ना पहनने को शिष्टाचार का गंभीर उल्लंघन माना जाएगा और सदस्यों के मास्क ना पहनने पर उन्हें चैंबर से हटाया भी जा सकता है। हालांकि बात करते समय वह कुछ समय के लिए उसे हटा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: अमेरिका में कोरोना से मरने वालों की संख्या 1.5 लाख के पार

पेलोसी ने कहा, ‘‘ यह सभा में और आसपास के क्षेत्रों में मौजूद अन्य लोगों के स्वास्थ्य, सुरक्षा और कल्याण के लिए सम्मान का एक प्रतीक है।’’ गौरतलब है कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के साथ प्रस्तावित यात्रा करने से ठीक पहले गोहमर्ट के संक्रमित होने की पुष्टि हुई। इसके बाद उन्हें तुरंत अपनी सभी योजनाएं रद्द करनी पड़ी और साथी सांसदों ने कैपिटल हिल में मास्क ना पहनने के लिए उनकी काफी आलोचना भी की, जहां मुंह ढकना अनिवार्य नहीं है और जांच भी दुर्लभ ही होती है। गोहमर्ट ने टेक्सास के एक न्यूज स्टेशन से कहा कि व्हाइट हाउस में उनके संक्रमित होने की पुष्टि हुई और वह पृथक-वास में जा रहे हैं। कांग्रेस के कम से कम 10 सदस्य अभी तक कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।