• इन 4 चीज़ों को रसोई में कभी ना होने दें खत्म, वरना हो जाएंगे कंगाल

वास्तुशास्त्र के अनुसार रसोई में कुछ सामानों को कभी भी पूरी तरह से खत्म नहीं होने देना चाहिए। माना जाता है कि रसोई में माँ अन्नपूर्णा का निवास होता है और इन चीजों के खत्म होने से मां लक्ष्मी रुष्ट होती हैं। इसके कारण घर में आर्थिक तंगी होने लगती है और दरिद्रता आती है।

माता लक्ष्मी को धन की देवी कहा जाता है। शास्त्रों के अनुसार मां लक्ष्मी जिस पर खुश हो जाएं उसके जीवन में सुख-समृद्धि की कभी कमी नहीं होती और यदि किसी से रुष्ट हो जाएं तो जीवन में दरिद्रता और कष्टों का सामना करना पड़ता है। वास्तुशास्त्र के अनुसार रसोई में कुछ सामानों को कभी भी पूरी तरह से खत्म नहीं होने देना चाहिए। माना जाता है कि रसोई में माँ अन्नपूर्णा का निवास होता है और इन चीजों के खत्म होने से मां लक्ष्मी रुष्ट होती हैं। इसके कारण घर में आर्थिक तंगी होने लगती है और दरिद्रता आती है। आज के लेख में हम आपको बताएंगे कि रसोई में किन चीजों को कभी पूरी तरह खत्म नहीं होने देना चाहिए-

इसे भी पढ़ें: नवरात्रि पर भक्तों की मुरादें पूरी करने धरती पर आती हैं माँ दुर्गा, नौ रूपों का पूजन कर पायें मनोवांछित फल

आटा 

वास्तुशास्त्र के अनुसार रसोई में कभी भी आटा खत्म नहीं होना चाहिए। माना जाता है कि घर में कभी भी आटे का बर्तन पूरी तरह से खाली नहीं होना चाहिए। कहा जाता है कि रसोई में आटा खत्म होने से पहले ही लाकर रख देना चाहिए, इससे मान-सम्मान भी कम होने लगता है। वास्तुशास्त्र के अनुसार, घर में आटा खत्म होने से धन की कमी होने लगती है और दरिद्रता आती है। 

हल्दी 

हल्दी का इस्तेमाल खाना बनाने के साथ-साथ देवी-देवता की पूजा में भी किया जाता है। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार, हल्दी का संबंध गुरु से होता है। माना जाता है कि रसोई में पूरी तरह से हल्दी खत्म होने से गुरु दोष होने लगता है और घर में सुख-समृद्धि की कमी होने लती है। इससे शुभ कार्यों में भी विघ्न आ सकते हैं। 

चावल 

वास्तुशास्त्र के अनुसार रसोई में चावल खत्म होने से पहले ही लाकर रख लेना चाहिए। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार चावल का संबंध शुक्र से होता है। शुक्र को भौतिक सुख-सुविधा का कारक माना जाता है। यदि घर में चावल खत्म होने वाले हो तो उन्हें पहले ही मंगवाकर रख लेना चाहिए। 

इसे भी पढ़ें: 2 अक्टूबर से इन राशियों की होने वाली है बल्ले-बल्ले, कहीं आपकी राशि भी तो इसमें नहीं?

नमक

नमक के बिना हर चीज़ का स्वाद अधूरा लगता है। वास्तुशास्त्र के अनुसार रसोई में नमक का डिब्बा पूरी तरह से खाली नहीं होना चाहिए। माना जाता है कि इससे जीवन में आर्थिक समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इसके साथ ही कभी भी दूसरों के घर से नमक माँगकर नहीं लाना चाहिए।

- प्रिया मिश्रा