अशोका होटल के 100 कमरे कोविड केयर में तब्दील, दिल्ली HC के न्यायाधीशों और अधिकारियों को मिलेगा लाभ

अशोका होटल के 100 कमरे कोविड केयर में तब्दील, दिल्ली HC के न्यायाधीशों और अधिकारियों को मिलेगा लाभ

सरकार ने इसके 100 कमरे को कोविड-19 फैसिलिटी के रूप में तब्दील किया है। इसमें कोरोना संक्रमित न्यायाधीशों और न्यायिक अधिकारियों के साथ-साथ उनके परिवार के लोग भी रह सकेंगे।

दिल्ली में बढ़ते कोरोना वायरस के मामलों के बीच दिल्ली सरकार ने  चाणक्यपुरी स्थित अशोका होटल को दिल्ली हाईकोर्ट के न्यायाधीशों और न्यायिक अधिकारियों के लिए कोविड-19 फैसिलिटी केयर के रूप में तब्दील कर दिया है। सरकार ने इसके 100 कमरे को कोविड-19 फैसिलिटी के रूप में तब्दील किया है। इसमें कोरोना संक्रमित न्यायाधीशों और न्यायिक अधिकारियों के साथ-साथ उनके परिवार के लोग भी रह सकेंगे। 

इसे भी पढ़ें: दिल्ली में 18 साल से ऊपर सभी को निशुल्क कोरोना वैक्सीन लगाई जाएगी: अरविंद केजरीवाल

25 अप्रैल को दिल्ली उच्च न्यायालय द्वारा न्यायाधीश और न्यायिक अधिकारियों के लिए एक कोविड-19 स्वास्थ्य देखभाल सुविधा केंद्र स्थापित करने के अनुरोध प्राप्त होने के बाद चाणक्यपुरी डिविजनल मजिस्ट्रेट गीता ग्रोवर द्वारा इससे संबधित  निर्देश जारी किया गया है।आपको बता दें कि राजधानी दिल्ली में एक बार फिर से कोरोना कहर बनकर टूट रहा है। बीते 24 घंटे में यहां कोरोना के 20201 नए मामले सामने आए हैं। वही 380 मरीजों की जान गई है। फिलहाल दिल्ली में सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर 92358 हो गई है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।